Monday 10th of December 2018
खोज

 
livehindustansamachar.com
समाचार विवरण  
 किसी मित्र को मेल पन्ना छापो   साझा यह समाचार मूल्यांकन करें      
Save This Listing     Stumble It          
 CBI विवाद: सुप्रीम कोर्ट ने सरकार से पूछा- वर्मा को रातों-रात क्यों हटाया ? (Thu, Dec 6th 2018 / 15:49:49)

 


लाइव हिंदुस्तान समाचार @  नई दिल्ली
सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा से अधिकार वापस लेने और उन्हें छुट्टी पर भेजने के केंद्र के फैसले के खिलाफ दायर वर्मा की याचिका पर सुनवाई कर रहे उच्चतम न्यायालय ने गुरुवार को अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है। आज इस मामले पर हुई सुनवाई में न्यायालय ने कहा कि सरकार की कार्रवाई के पीछे की भावना संस्थान का हित होनी चाहिए। प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा कि अटार्नी जनरल के के वेणुगोपाल ने उसे बताया है कि जिन परिस्थितियों में ये हालात पैदा हुए उनकी शुरूआत जुलाई में ही हो गई थी।
सुनवाई के दौरान मुख्य न्यायधीश रंजन गोगोई ने कहा, सीबीआई के दो वरिष्ठ अधिकारियों के बीच लड़ाई एक रात में शुरू नहीं हुई। ऐसे में सरकार ने चयन समिति से परामर्श लिए बिना कैसे सीबीआई के निदेशक आलोक वर्मा को उनकी शक्तियों से वंचित कर दिया? न्यायमूर्ति गोगोई ने मेहता से पूछा, 'सरकार ने 23 अक्तूबर को सीबीआई के निदेशक आलोक वर्मा से सारी शक्तियां छीनने का रातोंरात निर्णय लेने के लिए किसने प्रेरित किया? जब वर्मा कुछ महीनों बाद सेवानिवृत्त हो रहे थे तो सरकार ने कुछ महीनों का और इंतजार क्यों नहीं किया और चयनित समिति से परामर्श क्यों नहीं लिया गया?'
महाधिवक्ता ने उच्चतम न्यायालय को बताया कि सीवीसी इस निष्कर्ष पर पहुंची है कि एक असाधारण स्थिति पैदा हो गई थी और असाधारण परिस्थितियों के लिए कभी-कभी असाधारण उपचार की जरूरत होती है। महाधिवक्ता ने न्यायालय को बताया, 'असाधारण परिस्थितियां उभर गई थीं। सीवीसी जांच का आदेश निष्पक्ष रूप से पारित किया गया था। दोनों वरिष्ठ अधिकारी लड़ रहे थे और गंभीर मसलों की जांच करने की बजाए एक-दूसरे के खिलाफ मामले की जांच कर रहे थे। सीवीसी की उपेक्षा करना कर्तव्य का अपमान होगा। यदि सीवीसी कार्रवाई नहीं करेगी तो वह राष्ट्रपति और उच्चतम न्यायालय के प्रति जवाबदेह होगी।'
अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने न्यायालय से कहा, 'सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा को स्थानांतरित नहीं किया गया था और यह उनके द्वारा दिया गया कृत्रिम तर्क था कि उन्हें स्थानांतरित कर दिया गया। यह स्थानांतरण नहीं था बल्कि दोनों अधिकारियों को उनके कार्यों और प्रभार से वंचित कर दिया गया था।' आलोक वर्मा के वकील फली एस नरीमन ने कहा, 'सभी परिस्थितियों में उन्हें चयन समिति से परामर्श करना चाहिए था। इस मामले में स्थानांतरण का मतलब सेवा न्यायशास्र में हस्तांतरण नहीं है। हस्तांतरण का मतलब केवल एक स्थान से दूसरे स्थान पर होना नहीं होता है। संविधान के अनुसार जैसे भारत का मुख्य कार्यवाहक न्यायाधीश नहीं हो सकता, मुख्य न्यायधीश ही होता है ठीक वैसे ही परिस्थिति यहां है। वह कार्यवाहक मुख्य निदेशक नहीं रख सकते।'
रंजन गोगोई ने नरीमन से कहा, 'यदि कोई समस्या है तो क्या उच्चतम न्यायालय एक कार्यवाहक निदेशक को नियुक्त कर सकती है?' इसपर उन्होंने कहा, 'हां सर्वोच्च न्यायालय ऐसा कर सकती है क्योंकि संविधान का अंतिम मध्यस्थ न्यायालय है।' सीवीसी ने न्यायालय को बताया कि सीवीसी ने जांच शुरू की लेकिन सीबीआई निदेशाक आलोक वर्मा ने महीनों तक दस्तावेज नहीं दिए। विशेष निदेशक राकेश अस्थाना ने न्यायालय से कहा, 'निदेशक आलोक वर्मा के खिलाफ सीवीसी जांच को सरकार तर्कपूर्ण अंजाम तक लेकर जाए।' अस्थाना के वकील मुकुल रोहतगी ने कहा, 'इस मामले में व्हिसल ब्लोवर रहे विशेष निदेशक राकेश अस्थाना के साथ भी सरकार ने वैसा ही व्यवहार किया।

livehindustansamachar.com
 
समान समाचार  
livehindustansamachar.com
     
एडीजे कोर्ट सिरमौर की 4 खण्डपीठो मे 84 प्रकरणो का निपटारा

अश्वनी तिवारी
अपर जिला एवं सत्र न्यायलय सिरमौर में माँ सरस्वती की प्रतिमा के समक्षदीप प्रज्वलित कर अपर जिला एवं  सत्र न्यायाधीश माननीय नीलेश यादव के साथ न्यायाधीश सतीश बसुनिया , न्याया

read more..

एडीजे कोर्ट सिरमौर की 4 खण्डपीठो मे 84 प्रकरणो का निपटारा

राष्ट्रीय लोक अदालत में 7930 मामलों का निबटारा

लोक अदालत सस्ता एवं सुलभ न्याय का सर्वोत्तम विकल्प : न्यायाधीश

स्थाई वारंटी व अवैध शराब विक्रेताओं को न्‍यायालय ने भेजा जेल

राष्ट्रीय लोक अदालत : 2662 प्रकरणों में 12 करोड़ 48 लाख रूपये का अवार्ड पारित

नेशनल लोक अदालत के लिए सीधी में 23 खण्डपीठो का गठन

गुजरात, नागालैंड और बिहार में अवैध शराब की बिक्री वाली अर्जी सुप्रीम कोर्ट में खारिज

मध्यस्थता जागरूकता कार्यक्रम : समस्याएं हो मुझे बताएं, मै समाधान करूंगा : डी जे रीवा

रीवा में 33 खण्डपीठो में आपसी समझौते से होगा प्रकरणों का निपटारा

ओमप्रकाश त्रिपाठी होगे जौनपुर ने नये जिला जज

संविधान दिवस :भारतीय संविधान बहुमत और समझदारी की आवाज : सीजेआई

2019 में सिर्फ 213 दिन मध्य प्रदेश हाईकोर्ट में होगा न्यायालयीन काम

EVM की जगह बैलेट पेपर से चुनाव कराने की जनहित याचिका खारिज

भाजपा MP द्वारा सीलिंग तोडना अवमानना किए जाने का मामला नहीं : सुप्रीम कोर्ट

1984 सिख विरोधी दंगा मामला: उम्रकैद का अर्धशतक, फांसी की पहली सजा

मंत्री राजेन्द्र शुक्ल ने जिला पंचायत अध्यक्ष अभय मिश्रा पर किया मानहानि का मुकदमा

हार्दिक पटेल पर राजद्रोह के आरोप सेशन कोर्ट में तय, जाएंगे जेल !

बैंक खाता आधार से लिंक नहीं होने पर नहीं रोक सकते वेतन: बॉम्बे हाईकोर्ट

मद्रास ,बंबई और कलकत्ता HC के नाम बदले जाएंगे, लाया जाएगा नया विधेयक

चीफ जस्टिस ने हाईकोर्ट के 2 नए अतिरिक्त जजों को दिलवाई शपथ

मध्यप्रदेश हाईकोर्ट को मिले 3 नए जज, सोमवार को होगी शपथ

संविधान के अनुच्छेद- 370 पर अप्रैल में सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट

दजेह उत्पीड़न : पति और ससुर को आजीवन कारावास और अर्थदंड की सजा

गुजरात दंगा:PM मोदी के खिलाफ याचिका ,19 को सुनवाई करेगा SC

करोड़ों खर्च के बावजूद पुलिस सिर्फ वर्दी का रौब झड़ती है : हाईकोर्ट

राफेल विवाद : केंद्र सरकार ने SC को सौंपी विमान सौदे की डिटेल

सीबीआई v/s सीबीआई: सुप्रीम कोर्ट बताएगी, कौन है CBI सुप्रीम

नशे में धुत वोटरों को वोट देने से रोकने के लिए सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका

कानून मंत्रालय ने जारी की अधिसूचना, हाईकोर्ट के छह जजों का तबादला

राष्ट्रीय लोक अदालत 8 दिसम्बर को होगी आयोजित : लोकेश वरुण

voice news
हमारे रिपोर्टर  
 
 
View All हमारे रिपोर्टर
पंचांग-पुराण   
.......तो गौतम बुद्ध ने बताया भूख और उपदेश में संबंध !
कार्तिक पूर्णिमा के पर्व पर श्रद्धालुओं ने किया स्नान-दान,मेले का हुआ आयोजन
खडग पुस्तक हुई बंद, मंगलवार को बंद होंगे बदरीनाथ के कपाट
राम की नगरी अयोध्या में ऐतिहासिक होगी 24 घंटे में 14 कोसी परिक्रमा
छठ महापर्व :डूबते सूर्य को दिया जाएगा अर्घ्य, 36 घंटे का निर्जला उपवास
live tv
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
 
पंचांग-पुराण   
राशिफल अंक राशि
शुभ पंचांग कुम्भ [ महाकुम्भ ]
आस्था प्रवचन
हस्तरेखा वास्तु
रत्न फेंग शुई
कुंडली विशेष दिवस
सुविचार व्रत -उपवास
प्रेरक प्रसंग
 
लाइव अपडेट  
HEAD OFFICE
लाइव हिंदुस्तान समाचार
Nagar Sirmaur, Tehsil Sirmaur
District Rewa [MP] India
Zip Code-486448
Mob- +919425330281,+919893112422
 
समाचार चैनल  
स्थानीय राजनीति
SPORTS स्वास्थ्य [ सेहत ]
कारोबार क्राइम
व्यायाम जीवन शैली
शिक्षा स्ट्रिंग
धरोहर [ ऐतिहासिक ] प्रदर्शन [ विरोध ]
शासन सम्पादकीय
अंतर्राष्ट्रीय सोशल मीडिया
कैरियर मनोरंजन
न्यायालय आपदा [ घटना ]
अनुसंधान आलेख [ब्लॉग]
सम्मान [ पुरस्कार ] आयोग [ बोर्ड ]
ELECTION-2018 कार्यक्रम
टेक्नोलॉजी संगठन
मौसम परीक्षा [ टेस्ट ]
रिपोर्ट [ सर्वे ] भष्ट्राचार
बागवानी [ कृषि ] E-PAPER
कॉन्फ्रेंस [ विज्ञप्ति ] श्रधांजलि
आम बजट सदन [ संसदीय ]
योजना रिजल्ट [परिणाम]
सामान्य ज्ञान प्रशासन
 
Submit Your News
 
 
 | होम  | सम्मान [ पुरस्कार ]  | क्राइम  | आयोग [ बोर्ड ]  | कॉन्फ्रेंस [ विज्ञप्ति ]  | रिपोर्ट [ सर्वे ]  | सामान्य ज्ञान  | प्रशासन  | ELECTION-2018  | कारोबार  | कैरियर  | स्वास्थ्य [ सेहत ]  | राजनीति  | टेक्नोलॉजी  | योजना  | कार्यक्रम  | आलेख [ब्लॉग]  | संगठन  | रिजल्ट [परिणाम]  | E-PAPER  | सोशल मीडिया  | प्रदर्शन [ विरोध ]  | मनोरंजन  | स्ट्रिंग  | अनुसंधान  | SPORTS  | सम्पादकीय  | जीवन शैली  | अंतर्राष्ट्रीय  | सदन [ संसदीय ]  | आम बजट  | व्यायाम  | धरोहर [ ऐतिहासिक ]  | शासन  | परीक्षा [ टेस्ट ]  | आपदा [ घटना ]  | भष्ट्राचार  | न्यायालय  | स्थानीय  | शिक्षा  | श्रधांजलि  | मौसम  | बागवानी [ कृषि ]  | उत्तरांचल  | नगालैंड  | सिक्किम  | गोवा  | मणिपुर  | अंडमान एवं निकोबार  | गुजरात  | महाराष्ट्र  | उड़ीसा  | बिहार  | हिमाचल प्रदेश  | दादरा और नगर हवेली  | लक्ष्यदीप  | हरियाणा  | तमिलनाडु  | जम्मू और कश्मीर  | मिजोरम  | पंजाब  | आंध्र प्रदेश  | असम  | त्रिपुरा  | उत्तर प्रदेश  | तेलंगाना  | चंडीगढ़  | मध्य प्रदेश  | केरल  | राजस्थान  | पश्चिम बंगाल  | अरुणाचल प्रदेश  | दिल्ली  | पांडिचेरी  | छत्तीसगढ़  | दमन और दीव  | कर्नाटक  | मेघालय  | झारखंड  | नियम एवं शर्तें  | गोपनीयता नीति  | विज्ञापन हमारे साथ  | हमसे संपर्क करें
 
livehindustansamachar.com Copyrights 2016-2017. All rights reserved. Designed & Developed by : livehindustansamachar.com
 
Hit Counter