Tuesday 14th of July 2020
खोज

 
livehindustansamachar.com
समाचार विवरण  
 किसी मित्र को मेल पन्ना छापो   साझा यह समाचार मूल्यांकन करें      
Save This Listing     Stumble It          
  तकनीक : चार किलो पैरा में होगा एक किलो मशरूम (Sun, Jan 27th 2019 / 11:10:09)

 


रायपुर ब्यूरो
परंपरागत मशरूम की खेती से हट कर इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के प्रोफेसर्स ने नई तकनीक ईजाद की है। प्रदेश को मशरूम के उत्पादन में नई पहचान देने के लिए नया प्रयोग किया गया। बात ये है कि कुछ दिनों पूर्व आयोजित सेमिनार में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रोफेसरों से कहा था कि कृषि में कुछ नया प्रयोग करें ताकि बस्तर के जंगलों के बीच आसानी से खेती की जा सके। ताकि आदिवासियों की आय में वृृद्धि हो सके। प्रोफेसर और छात्रों ने इस पर कई प्रयोग किए। अंततः मशरूम की खेती का नया प्रयोग कारगर रहा।
ऐसे किए प्रयोग
प्रोफेसर डॉ. सतीश वर्मा और छात्रों ने परंपरागत मशरूम की खेती से अलग नई विधि तैयार की। इसमें जंगलों के बीच पैरे को पांच लेयर में आड़ा और तिरछा कर बिछाया गया। हल्का-हल्का पानी का छिड़काव रोजाना किया गया। तीन दिन पैरे में फंगस आने लगी और एक सप्ताह में मशरूम तैयार हो गया। प्रोफेसर डॉ. सतीश ने बताया कि चार किलो पैरा में एक किलो मशरूम निकल जाता है। हम 20 से 25 किलो पैरा के बंडल से करीब पांच किलो मशरूम तैयार कर सकते हैं।
परंपरागत विधि ये है
पैरे को गोल नुमा चाली में बांध कर एक बक्से में डाल कर तैयार किया जाता है। इससे मशरूम आने में भी समय लगता है और पैदावार भी कम होती है। एक महीने में करीब 10 किलो मशरूम की पैदावार की जा सकती है।
आदिवासियों को ऐसे होगा फायदा
प्रोफेसरों ने बताया कि बस्तर और सरगुजा में खेती का रकबा कम है। कारण है घने जंगल। बड़े-बड़े झाड़ होने के कारण कम धूप आती है और किसी फसल का उत्पादन बड़े स्तर पर नहीं किया जा सकता। इन्हीं कारणों से हमने जंगल में पैरे को जमीन में लंबा-लंबा बिछा दिया और मशरूम तैयार कर लिया। इस तरह मशरूम की फसल लेकर आदिवासी अपनी आय के स्रोत बढ़ा सकते हैं।

livehindustansamachar.com
 
समान समाचार  
livehindustansamachar.com
     
देश में खेती के साथ व्यापार भी कर सकेंगे किसान, बनेंगे 10 हजार किसान संगठन

लाइव हिंदुस्तान समाचार @ नई दिल्ली
अब भारत के किसान भी विदेशों की तर्ज पर व्यापारी भी बनेंगे। किसानों की आय को दोगुना करने के लिए केंद्र की मोदी सरकार किसान उत्पादक संगठनों का गठन करके किसानों को आत्मनिर

read more..

देश में खेती के साथ व्यापार भी कर सकेंगे किसान, बनेंगे 10 हजार किसान संगठन

जबलपुर के फूलों पर महाराष्ट्र और तेंदूपत्ता पर उत्तरप्रदेश-छत्तीसगढ़ फिदा

अमरकंटक में रुद्राक्ष और खंडवा में शीशम उगाएगी मध्‍यप्रदेश सरकार

मानसून ने कवर किया बोनी लायक कोटा ,मौसम खुलने का इंतजार

खेत में फसल के डंठल जलाने पर 2500 से 15000 रुपये तक भरना होगा जुर्माना : डीएम

छत्तीसगढ़ में अब होगी एप्पल बेर, खजूर सहित छह फलों की खेती

रीवा संभाग में फूड प्रोसेसिंग यूनिट के लिए नहीं रीवा से आवेदन नहीं

पिथौरागढ़ में स्थापित होगा देश का दूसरा ट्यूलिप गार्डन

कृषक के खेत पर मनाया गया चना प्रक्षेत्र दिवस

तकनीकी खेती अपनाएं किसान, आय होगी दुगुनी : डीएम

पिछड़ेपन से उबारने की पहल : शुगर फ्री ''ब्लैक राइस'' की खेती

तटवर्ती खेतों की बर्बादी कारण बन रहे जंगली बबूल

शहर को सुन्दर बनाने हेतु व्यापारियों ने किया पौधा रोपण

अंतिम चरण में नवम्बर : अब तक नहीं हो सकी 45 फीसदी रकबे में भी बोवनी

हिमपात से कश्मीर में 15 लाख सेब के पेड़ों को नुकसान

हैदराबाद के कृषि वैज्ञानिकों ने देखा मूॅग, उडद का प्रर्दशन प्रक्षेत्र

मध्यप्रदेश में पैदा होगा विश्व का दूसरा मंहगा मसाला

विभाग की उदासीनता से सूखने लगे नव रोपित पौधे

2030 में खिलेगा अद्भुत नीले बैंगनी रंग का फूल

DM ने उद्यान विभाग द्वारा रोपित फलदार वृक्षों का किया निरीक्षण

हमीरपुर के छानी गांव में पहली बार होगी कपास की खेती

बुंदेलखंड को हरा भरा करने के लिए पुलिस के अधिकारियो ने उठायी जिम्मेदारी

अदभुत : एक पेड़ पर चालीस प्रकार के फल

डब्लूटीआई के एक्सपर्ट ने रबर फैक्ट्री के पास पकड़ा बाघ

बेजुबानों के लिए आदिवासियों के पैरों पर गिरी महिला अफसर

टाइगर सफारी में आएगा सफेद बाघ तथा सिंह का जोड़ा : राजेन्द्र शुक्ल

विश्व प्रसिद्ध ट्यूलिप गार्डन में 25 मार्च से जा सकेंगे पर्यटक

कब्ज, एसिडिटी, झुर्रियों, मोटापे में फायदेमंद है खीरे का जूस

दिमाग तेज करना हैं तो ये खाएं, बहुत तेज होती है याददाश्त

मुंह से सांप का जहर खींच नई जिंदगी देते हैं बस्तर के विष पुरुष सुंदर

voice news
हमारे रिपोर्टर  
 
 
View All हमारे रिपोर्टर
पंचांग-पुराण   
मोक्षदायिनी और पुण्यफल देने वाली देवशयनी एकादशी की पूजाविधि और शुभ मुहूर्त
कांवड़ यात्रा की अनुमति देने से झारखंड सरकार ने किया इन्कार
30 दिन के अंतर में 3 ग्रहणों का संयोग ,खुशियां लेकर आ रहा है सूर्य ग्रहण
Nirjala Ekadashi : सभी व्रत, उपवासों में निर्जला एकादशी सर्वश्रेष्ठ
आमलकी एकादशी : व्रत से मिलता है सुख और होती है मोक्ष की प्राप्ति
live tv
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
 
पंचांग-पुराण   
राशिफल अंक राशि
शुभ पंचांग कुम्भ [ महाकुम्भ ]
आस्था प्रवचन
हस्तरेखा वास्तु
रत्न फेंग शुई
कुंडली विशेष दिवस
सुविचार व्रत -उपवास
प्रेरक प्रसंग
 
लाइव अपडेट  
लाइव हिंदुस्तान समाचार
 
समाचार चैनल  
स्थानीय राजनीति
खेल COVID-19
बिज़नेस अपराध
व्यायाम जीवन शैली
शिक्षा कार्यक्रम
राष्ट्रीय सम्पादकीय
अंतर्राष्ट्रीय सोशल मीडिया
कैरियर मनोरंजन
न्यायालय आपदा
अनुसंधान ब्लॉग
पुरस्कार निर्वाचन
टेक्नोलॉजी मौसम
रिपोर्ट भष्ट्राचार
कॉन्फ्रेंस सदन
योजना रिजल्ट
प्रशासन लाइव हिंदुस्तान समाचार
 
Submit Your News
 
 
 | होम  | मौसम  | योजना  | राजनीति  | बिज़नेस  | कॉन्फ्रेंस  | मनोरंजन  | अपराध  | टेक्नोलॉजी  | जीवन शैली  | पुरस्कार  | COVID-19  | ब्लॉग  | शिक्षा  | कैरियर  | स्थानीय  | अंतर्राष्ट्रीय  | अनुसंधान  | रिपोर्ट  | भष्ट्राचार  | रिजल्ट  | न्यायालय  | निर्वाचन  | आपदा  | व्यायाम  | कार्यक्रम  | सम्पादकीय  | राष्ट्रीय  | सदन  | खेल  | लाइव हिंदुस्तान समाचार  | प्रशासन  | सोशल मीडिया  | उड़ीसा  | हरियाणा  | त्रिपुरा  | उत्तरांचल  | दमन और दीव  | असम  | तमिलनाडु  | झारखंड  | मिजोरम  | पश्चिम बंगाल  | नगालैंड  | अरुणाचल प्रदेश  | जम्मू और कश्मीर  | तेलंगाना  | गुजरात  | बिहार  | दादरा और नगर हवेली  | चंडीगढ़  | महाराष्ट्र  | राजस्थान  | लद्दाख  | उत्तर प्रदेश  | मेघालय  | मणिपुर  | गोवा  | केरल  | अंडमान एवं निकोबार  | छत्तीसगढ़  | लक्ष्यदीप  | कर्नाटक  | हिमाचल प्रदेश  | पंजाब  | आंध्र प्रदेश  | सिक्किम  | दिल्ली  | मध्य प्रदेश  | पांडिचेरी  | नियम एवं शर्तें  | गोपनीयता नीति  | विज्ञापन हमारे साथ  | हमसे संपर्क करें
 
livehindustansamachar.com Copyrights 2016-2017. All rights reserved. Design & Development By MakSoft
 
Hit Counter