Monday 17th of June 2019
खोज

 
livehindustansamachar.com
समाचार विवरण  
 किसी मित्र को मेल पन्ना छापो   साझा यह समाचार मूल्यांकन करें      
Save This Listing     Stumble It          
 डगमगा रहा है राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की महिला पुलिसकर्मियों का विश्वास (Fri, Mar 29th 2019 / 00:02:50)

 


नई दिल्ली ब्यूरो
राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की पुलिस देश में अव्वल मानी जाती है। दिल्ली में जगह-जगह पर लगे विज्ञापनों से भी आपको अंदाजा हो जाएगा कि यहां की पुलिस कितनी दमदार है। महिला पुलिस कर्मियों की बात करें तो उनके विज्ञापन भी कुछ ऐसा ही बयां करते हैं। कॉमनवेल्थ ह्यूमन राइट इनिशिएटिव (सीएचआरआई) की ताजा रिपोर्ट बताती है कि दिल्ली में आॅल महिला पीसीआर वैन में तैनात पुलिसकर्मियों का विश्वास डगमगा रहा है। उन्हें खुद पर भरोसा नहीं है। नतीजा, कभी वे मौके पर देर से पहुंचती हैं तो कभी उन्हें ज्यादा ट्रैफिक के बीच चलने में असहजता महसूस होती है। कुछ महिला कर्मियों की बातचीत में यह भी निकल कर सामने आया है कि वे हाई क्राइम जोन में काम नहीं कर सकती। रात में ड्यूटी देना भी ये महिला पुलिसकर्मी ठीक नहीं समझती। जिन जगहों पर सर्वे कर यह रिपोर्ट तैयार की गई, वहां की 60 फीसदी जनता कहती है कि हमने तो कभी अपने इलाके में महिला पीसीआर देखी नहीं है।
बता दें कि दिल्ली पुलिस ने 9 सितंबर 2016 को पांच आॅल महिला पीसीआर वैन का एक पायलट प्रोजेक्ट शुरू किया था। सीएचआरआई ने दिल्ली पुलिस के सहयोग से इनका कामकाज जांचने के मकसद से एक आॅडिट रिपोर्ट तैयार की। इसमें इंडिया गेट के सी-हेक्सागन (वैन-26), जेएमएम कालेज (वैन-41), विजय चौक/साउथ ब्लॉक (वैन-68), कस्तूरबा गांधी मार्ग पर अमेरिकन सेंटर (वैन-75) और खान मार्केट (वैन-81) को सर्वे में शामिल किया गया। पीसीआर वैन के इंचार्ज और अन्य स्टाफ ने सीएचआरआई के सामने खुलकर अपनी बात रखी।
एक फीसदी से भी कम कॉल रिसीव हुई
पांचों आॅल महिला पीसीआर वैन में कुल पीसीआर कॉल के मुकाबले केवल एक फीसदी से भी कम कॉल रिसीव की गई। यानी अक्तूबर 2016 से लेकर जून 2017 तक 0.55 प्रतिशत कॉल रिसीव हुई थी। नई दिल्ली जोन में अगर सभी पीसीआर की बात करें तो उक्त अवधि में हर महीने औसतन 65-66 कॉल आ रही थी।
दूसरी ओर सभी पांचों महिला पीसीआर वैन का आंकड़ा देखें तो वह 40 कॉल प्रति महीना की औसत निकलती है। पेट्रोलिंग में भी ये वैन पीछे रही। जब कोई कॉल आती है तो उसके बाद जो रिपोर्ट तैयार करनी होती है, इसमें सात केसों में से केवल एक ही केस की सही रिपोर्ट की गई।
'महिला पीसीआर का काम संतोषजनक नहीं'
शिकायतकर्ता का क्या फीडबैक रहा, इस बाबत भी महिला पीसीआर का काम संतोषजनक नहीं था। इतना ही नहीं, कॉल करने वाले व्यक्ति का डॉटा भी आधा अधूरा ही तैयार किया गया। कॉल आने के बाद मौके पर पहुंचने के लिए जो समय तय किया गया है, ज्यादातर पीसीआर उस समय सीमा से काफी आगे निकल गई।
किसी भी महिला पुलिसकर्मी को यह नहीं मालूम था कि उनकी तैनाती सरकार के किस स्टेंडिंग आॅर्डर से की गई है। पांच में से दो पीसीआर वैन में तैनात महिलाकर्मियों से जब यह पूछा गया कि उन्हें पीसीआर डयूटी के लिए कितने दिन की ट्रेनिंग दी गई है। जवाब मिला कि एक महीने का प्रशिक्षण मिला है, जबकि सही जवाब दो सप्ताह था।
उन्होंने कहा, महिला ड्राइवरों का विश्वास डगमगा जाता है।भीड़ वाली जगहों पर पुरुष ड्राइवर ही ठीक रहते हैं। पांचों वैन की जो पर्यवेक्षण रिपोर्ट थी, वह भी खराब मिली।
10 महीने में रिसीव हुई कॉल
इंडिया गेट के सी-हेक्सागन (वैन-26) - 49 कॉल
जेएमएम कालेज (वैन-41)- 66 कॉल
विजय चौक/ साउथ ब्लॉक (वैन-68) - 39 कॉल
कस्तूरबा गांधी मार्ग पर अमेरिकन सेंटर (वैन-75) - 186 कॉल
खान मार्केट (वैन-81) - 51 कॉल
परिवार से दूर नहीं रह सकते : महिला पुलिसकर्मी
राजस्थान और हरियाणा इन दोनों राज्यों की महिला पुलिसकर्मियों का कहना था कि वे अपने परिवार से दूर नहीं रह सकती हैं। सीएचआरआई का कहना है कि चूंकि ये महिलाएं जब पुलिस में भर्ती होती हैं तो इनकी शादी भी जल्द हो जाती है। इसके बाद ये जिस आयु में होती हैं, वह घर-परिवार को आगे बढ़ाने का समय होता है।
महिलाकर्मियों का कहना था कि वे रात में डयूटी नहीं दे सकती।यदि कहीं पर झगड़ा हो जाए और उसमें आदमी शामिल हों तो हमें मिक्स वैन भेजनी पड़ती है। नई लड़कियों को तो ज्यादा जानकारी भी नहीं होती।
आल महिला पीसीआर योजना को बंद करने की सिफारिश
सीएचआरआई की आॅडिट टीम की सदस्य देविका प्रसाद, अदिति दत्ता और देवयानी श्रीवास्तव का कहना है कि दिल्ली में आॅल महिला पीसीआर वैन को बंद किया जाए। इसकी जगह पर अगर पूरी दिल्ली में तैनात सभी पीसीआर में एक-एक महिलाकर्मी तैनात कर दी जाए तो यह ज्यादा कारगर रहेगा।
फीडबैक सिस्टम को सुधारा जाए, पब्लिक के साथ ज्यादा से ज्यादा तालमेल हो, चेकिंग अफसरों की संख्या बढ़नी चाहिए। जेंडर इक्विलिटी को प्रभावी तरीके से लागू किया जाए। ट्रेनिंग का पैटर्न बदला जाए और इसे एक औपचारिकता के दायरे से बाहर निकालकर प्राथमिकता के तौर पर लें।
अगर कोई गलत कॉल करता है तो उसके खिलाफ स्वत: संज्ञान लेने की पावर पीसीआर कर्मियों को दी जाए। दिल्ली जैसे शहर में महिला पुलिसकर्मियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए महिला पीसीआर वैन की रूपरेखा दोबारा से तैयार करें। इसमें शिकायत रिसीव करने और एक्शन लेने जैसी बातों को ध्यान में रखा जाए।

 
समान समाचार  
livehindustansamachar.com
     
12 खंड विकास अधिकारियों से लापरवाही पर जवाब तलब

अमेठी ब्यूरो
स्वच्छ भारत मिशन के तहत निर्मित प्रसाधन के बेसलाइन सर्वे व जियो टैगिंग के साथ फोटो अपलोडिंग कार्य में लापरवाही बरतना जिले के 12 बीडीओ को भारी पड़ा। समीक्षा के दौरान 7,604 प्रसाधन की फोटो अपलोड नहीं होने का मामला प्रकाश में आया।
बीडीओ की लापरवाही से

read more..

12 खंड विकास अधिकारियों से लापरवाही पर जवाब तलब

एक IAS और 7 PCS अफसरों का तबादला, घोटाले में निलंबित 5 अफसर बहाल

ट्रेन में बेवजह चेन पुलिंग करने वालों की अब खैर नहीं, चरित्र पर लगेगा ‘'दाग'’

एसपी ने 31 पुलिस अधिकारी, कर्मियों के कार्यक्षेत्र में किया बदलाव

दुकानों से वसूली 2 लाख की चिल्लर जबलपुर नगर निगम के लिए बन गई मुसीबत

अमृतम जलम अभियान : नदियां शहर तथा ग्रामीण क्षेत्रों के प्रमुख जल स्त्रोत :कमिश्नर

SP ने पीड़ित परिवार की गुहार पर रिश्वतखोर सिपाही को किया लाइन अटैच

अतिरिक्त संचालक उच्च शिक्षा को दो वार्षिक वेतन वृद्धियां रोकने का नोटिस

दस्तक अभियान की सफलता के लिये सामुदायिक सहभागिता आवश्यक : संभागायुक्त

नगरीय क्षेत्रों में अतिवृष्टि एवं बाढ़ से निपटने के समुचित उपाय करें : कमिश्नर

कमिश्नर ने पीएचई विभाग के दो एसडीओ को दिया वेतन वृद्धि रोकने का नोटिस

निर्वाचन कार्य के आदेश की अवहेलना पर प्राचार्य को कमिश्नर की नोटिस

शहडोल एवं रीवा संभाग की खरीफ सत्र 2019 की तैयारी बैठक रीवा में आयोजित

नागरिकों की सक्रिय सहभागिता से शहर बनेगा सुंदर और व्यवस्थित : कलेक्टर

नगर की रैंकिंग सुधारने हर वार्ड के लिए नियुक्त किए गए सफाई दरोगा

ठोस कचरा प्रबंधन की रणनीति नहीं बनने पर एसडीएम, ईओ को नोटिस

अस्‍पताल का निरीक्षण करने 40 किमी साइकिल चलाकर पहुंचे दमोह कलेक्टर

Collector को जांच में क्लीनचिट, शिवराज सिंह ने की थी EC से शिकायत

वैधानिक चेतावनी : आमंत्रण कार्ड पर वर और वधु की जन्मतिथि छापना अनिवार्य

विद्युत प्रदाय में लापरवाही बरतने वाले 387 अधिकारी-कर्मचारी पर कार्रवाई

भरखरी के ऐतिहासिक जवारा मेले को लेकर उपजिलाधिकारी ने की बैठक

अधिकारी-कर्मचारी बिना अनुमति मुख्यालय न छोड़े : कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी

एसडीएम के निर्देश पर राजस्व कर्मियों ने किया भूमि का सीमांकन

स्वतंत्र, निष्पक्ष, पारदर्शी एवं शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न करायें निर्वाचन :कमिश्नर

पेट्रोल पंपों में पेट्रोल एवं डीजल का पर्याप्त भण्डारण रखें : कलेक्टर

संपूर्ण रीवा जिला जल अभावग्रस्त क्षेत्र घोषित

चार दिन कार्यालय में एवं दो दिन भ्रमण पर रहेंगे कलेक्टर

विधानसभा निर्वाचन में गलती करने पर सात पीठासीन अधिकारी निलंबित

निजी विद्यालयों की गलत मोनोपॉली के खिलाफ प्रतिबंधात्मक आदेश

कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने केन्द्रीय जेल का किया औचक निरीक्षण

voice news
हमारे रिपोर्टर  
 
 
View All हमारे रिपोर्टर
पंचांग-पुराण   
रोहिणी नक्षत्र में 25 मई से 3 जून तक रहेगा नौतपा, सूरज के तेवर होंगे प्रचंड
दारुल उलूम का एलान, नहीं दिखा रमजान का चांद,मंगलवार को पहला रोजा
बहुत चमत्कारी है हनुमान चालीसा, उपायों से पूरी होती है मनोकामना
Hanuman Jayanti: हनुमान चालीसा का पाठ करने से होता है संकटों का नाश
Chaitra Navratri : अष्टमी-नवमी तिथि और जानें पूजा-पारण का शुभ मुहूर्त
live tv
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
 
पंचांग-पुराण   
राशिफल अंक राशि
शुभ पंचांग कुम्भ [ महाकुम्भ ]
आस्था प्रवचन
हस्तरेखा वास्तु
रत्न फेंग शुई
कुंडली विशेष दिवस
सुविचार व्रत -उपवास
प्रेरक प्रसंग
 
लाइव अपडेट  

Head office
[Editorial &Contact for news, business, complaints and suggestions]
Sirmaur, District - Rewa [MP]
Livehindustansamachar@gmail.com
Mob: +919893112422

 
समाचार चैनल  
LOCAL NEWS POLITICS
SPORTS स्वास्थ्य
Business CRIME
व्यायाम जीवन शैली
शिक्षा String
धरोहर [ऐतिहासिक] प्रदर्शन [ विरोध ]
शासन सम्पादकीय
अंतर्राष्ट्रीय SOCIAL MEDIA
JOB मनोरंजन
न्यायालय आपदा [ घटना ]
अनुसंधान आलेख [ब्लॉग]
सम्मान [ पुरस्कार ] आयोग [ बोर्ड ]
ELECTION कार्यक्रम
TECHNOLOGY संगठन
मौसम परीक्षा [ टेस्ट ]
रिपोर्ट [ सर्वे ] इंटरव्यू
भष्ट्राचार बागवानी [ कृषि ]
E-PAPER कॉन्फ्रेंस
श्रधांजलि आम बजट
सदन [ संसदीय ] योजना
रिजल्ट [परिणाम] प्रशासन
जनरल नॉलेज [स्पेशल ]
 
Submit Your News
 
 
 | होम  | जीवन शैली  | न्यायालय  | E-PAPER  | [स्पेशल ]  | आयोग [ बोर्ड ]  | बागवानी [ कृषि ]  | परीक्षा [ टेस्ट ]  | व्यायाम  | भष्ट्राचार  | ELECTION  | इंटरव्यू  | सदन [ संसदीय ]  | जनरल नॉलेज  | TECHNOLOGY  | CRIME  | धरोहर [ऐतिहासिक]  | JOB  | श्रधांजलि  | रिपोर्ट [ सर्वे ]  | अंतर्राष्ट्रीय  | Business  | शिक्षा  | सम्पादकीय  | SPORTS  | योजना  | प्रशासन  | सम्मान [ पुरस्कार ]  | रिजल्ट [परिणाम]  | मनोरंजन  | मौसम  | कार्यक्रम  | LOCAL NEWS  | आपदा [ घटना ]  | String  | POLITICS  | आम बजट  | अनुसंधान  | आलेख [ब्लॉग]  | SOCIAL MEDIA  | स्वास्थ्य  | शासन  | कॉन्फ्रेंस  | संगठन  | प्रदर्शन [ विरोध ]  | पश्चिम बंगाल  | छत्तीसगढ़  | उत्तरांचल  | झारखंड  | महाराष्ट्र  | उत्तर प्रदेश  | पांडिचेरी  | बिहार  | लक्ष्यदीप  | नगालैंड  | कर्नाटक  | दमन और दीव  | राजस्थान  | गुजरात  | उड़ीसा  | जम्मू और कश्मीर  | तमिलनाडु  | त्रिपुरा  | हरियाणा  | पंजाब  | हिमाचल प्रदेश  | मिजोरम  | मणिपुर  | अंडमान एवं निकोबार  | गोवा  | दिल्ली  | तेलंगाना  | अरुणाचल प्रदेश  | सिक्किम  | असम  | दादरा और नगर हवेली  | मेघालय  | मध्य प्रदेश  | आंध्र प्रदेश  | चंडीगढ़  | केरल  | नियम एवं शर्तें  | गोपनीयता नीति  | विज्ञापन हमारे साथ  | हमसे संपर्क करें
 
livehindustansamachar.com Copyrights 2016-2017. All rights reserved. Designed & Developed by : livehindustansamachar.com
 
Hit Counter