Thursday 19th of September 2019
खोज

 
livehindustansamachar.com
समाचार विवरण  
 किसी मित्र को मेल पन्ना छापो   साझा यह समाचार मूल्यांकन करें      
Save This Listing     Stumble It          
 भाजपा न तो अटल-आडवाणी की थी और न कभी मोदी-शाह की होगी : गडकरी (Sat, May 11th 2019 / 08:50:15)

 


नई दिल्ली ब्यूरो
भारतीय जनता पार्टी के व्यक्ति- केन्द्रित पार्टी बन जाने की धारणा को खारिज करते हुये केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि भाजपा विचारधारा पर आधारित पार्टी है। उन्होंने कहा, ‘‘यह पार्टी न कभी केवल अटल जी की बनी, न कभी आडवाणी जी की और न ही यह कभी केवल अमित शाह या नरेंद्र मोदी की पार्टी बन सकती है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा विचारधारा पर आधारित पार्टी है और यह कहना गलत है कि भाजपा मोदी-केन्द्रित हो गयी है।’’
भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व अध्यक्ष ने लोकसभा चुनावों में खंडित जनादेश की आशंकाओं को भी खारिज किया और दावा किया कि भाजपा को पिछली बार से भी अधिक सीटें मिलेंगी। यहां अपने आवास पर ‘पीटीआई भाषा’ को दिए साक्षात्कार में गडकरी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं भाजपा दोनों एक दूसरे के पूरक हैं। इस सवाल के जवाब में कि क्या भाजपा में 'इंदिरा इज इंडिया एन्ड इंडिया इज इंदिरा' की तर्ज पर 'मोदी ही भाजपा और भाजपा ही मोदी' वाली स्थिति हो गयी है, गडकरी ने कहा, ‘‘भाजपा जैसी पार्टी व्यक्ति-केन्द्रित कभी नहीं हो सकती है। यह विचारधारा पर आधारित पार्टी है। हमारी पार्टी में परिवार राज नहीं हो सकता। यह धारणा गलत है कि भाजपा मोदी केन्द्रित हो गयी है। पार्टी का संसदीय दल है जो सभी अहम फैसले करता है।’’
उन्होंने तर्क दिया कि पार्टी और उसका नेता एक दूसरे के पूरक हैं। उन्होंने कहा, "पार्टी बहुत मजबूत हो, लेकिन नेता मजबूत नहीं है तो चुनाव नहीं जीता जा सकता है। इसी तरह नेता कितना भी मजबूत हो लेकिन पार्टी मजबूत नहीं होने पर भी काम नहीं चलेगा... हां, यह सही है जो सबसे लोकप्रिय जननेता होता है वह स्वाभाविक रूप से सामने आता ही है।’’
चुनावों में अपनी सरकार के कामकाज एवं उपलब्धियों के बजाय राष्ट्रवाद और राष्ट्रीय सुरक्षा को चुनावी मुद्दा बनाये जाने के आरोप को खारिज करते हुये उन्होंने कहा, ‘‘चुनाव में जातिवाद और सांप्रदायिकता का जहर घोल कर हमारे विकास के एजेंडे को बदलने की कोशिश विरोधियों ने की है। मुझे यकीन है कि जनता विकास के साथ रहेगी और हम पूर्ण बहुमत के साथ फिर से सरकार बनायेंगे।’’
गडकरी ने कहा, ‘‘जहां तक राष्ट्रवाद को मुद्दा बनाने की बात है तो यह हमारे लिये मुद्दा नहीं है, यह हमारी आत्मा है। बेहतर शासन-प्रशासन और विकास हमारा मिशन है और समाज में शोषित, पीड़ित और पिछड़ों को केन्द्रबिंदु मानकर उन्हें रोटी- कपड़ा - मकान देना हमारा उद्देश्य है।’’ विपक्ष के इस आरोप पर कि भाजपा पांच वर्ष की नाकामियां छिपाने के लिए इस तरह के भावनात्मक मुद्दे उठा रही है, गडकरी ने कहा ‘‘हमने इसे मुद्दा कतई नहीं बनाया।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हर चुनाव में देश की सुरक्षा पर हमेशा चर्चा हुई है।
प्रधानमंत्री के भाषणों में पाकिस्तान और सेना का बार-बार जिक्र करने का बचाव करते हुए गडकरी ने कहा, "दरअसल हाल ही में पाकिस्तान की आतंकवादी गतिविधियों का जवाब भारत को देना पड़ा। ये विषय जब सामने आये तो आंतरिक और बाह्य सुरक्षा से जुड़े इस विषय पर चर्चा होना स्वाभाविक है। इसलिये राष्ट्रवाद को हमने मुद्दा नहीं बनाया है, बल्कि मीडिया ने बालाकोट सैन्य कार्रवाई पर उठे सवालों को चर्चा में लाकर इसे मुद्दा बना दिया।’’
पांच साल में सरकार की उपलब्धियों के सवाल पर गडकरी ने कहा कि मोदी सरकार ने देशहित में राष्ट्रीय राजमार्ग, हवाईअड्डे, अंतरदेशीय जलमार्ग जैसी बड़ी-बड़ी योजनायें शुरु कीं। इससे बहुत बड़ा बदलाव दिखा। साथ ही उज्ज्वला योजना से लेकर जनधन, मुद्रा और आयुष्मान योजना तक और फसल बीमा से लेकर प्रधानमंत्री आवास योजना तक सभी के बहुत अच्छे परिणाम देखने को मिले।
उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि जितने काम 50 साल में नहीं हुये थे, वे काम पांच साल में होते देख, जनता ने एक मजबूत विकल्प के रूप में इस बार भी हमें चुनने का फैसला कर लिया है।’’ यह पूछे जाने पर कि सरकार की उपलब्धियों का जिक्र होने पर सिर्फ उनके मंत्रालय (सड़क परिवहन, जहाजरानी एवं गंगा) के कामों की ही चर्चा होती है, उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं है, सभी मंत्रालयों में काम हुआ है। उन्होंने कहा, "मुझे लाभ जरूर मिलता है कि क्योंकि मेरे विभागों के काम दिखते हैं।"
यह पूछे जाने पर कि रोजगार में तेजी से आयी गिरावट और आर्थिक मंदी की हकीकत से क्या सरकार चिंतित नहीं है, गडकरी ने कहा, ‘‘अकेले मेरे विभाग में 17 लाख करोड़ रुपये के काम हुये। इनमें 11.5 लाख करोड़ रुपये के काम सड़कों के हुए हैं।’’
उन्होंने कहा, ‘‘देश के कुल सीमेंट उत्पादन का 40 प्रतिशत सीमेंट वह (सरकार) खरीदते हैं तो इससे कहीं न कहीं रोजगार तो सृजित हुआ ही है।’’ उन्होंने दलील दी कि सभी बंदरगाह लाभ की स्थिति में हैं और नौवहन से कारोबार शुरु होने से भाड़े की लागत कम होगी।
गडकरी ने कहा कि जब लागत कम हो रही हो, रोजगार पैदा हो रहे हों तो मंदी की बात कहां है। उन्होंने यह भी कहा कि इसके अलावा वैश्विक मंदी का भी तकाजा होता है और यह विश्व बाजार में उतार चढ़ाव (चक्र) की एक सामान्य प्रक्रिया का परिणाम होता है।
यह पूछे जाने पर कि पुलवामा हमले में खुफिया तंत्र की नाकामी को लेकर व्याप्त भ्रम की स्थिति अब भी बरकरार है और क्या इस बारे में किसी की जिम्मेदारी तय करने के लिए सरकार में कभी कोई चर्चा हुयी, गडकरी ने कहा, "किसी भी देश में आतंकवादी घटनाओं को खुफिया तंत्र की विफलता के नजरिये से नहीं देखा जाता है। यह लंबी लड़ाई है। अमेरिका, जर्मनी और फ्रांस सहित तमाम देशों में आतंकवादी घटनायें हुयीं। उन्हें खुफिया तंत्र की विफलता कहना आसान है। खुफिया संगठनों में भी दैवीय व्यवस्था नहीं बल्कि मानवीय व्यवस्था कायम है। इसलिये मुझे लगता है कि यह खुफिया विफलता का मामला नहीं है। जहां तक सरकार में इस पर चर्चा का सवाल है तो ऐसे मुद्दे गोपनीय होते हैं।"
यह कहे जाने पर कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भाजपा को चुनौती दी है कि वह नोटबंदी एवं जीएसटी जैसे फैसलों पर चुनाव लड़े और क्या वह मानते हैं कि यह बड़ी उपलब्धियां नहीं है, गडकरी ने जवाब दिया, "कालेधन के खिलाफ जो बड़े फैसले किये गये, नोटबंदी उनमें से एक था। सच्चाई यह है कि इससे अर्थव्यवस्था में पारदर्शिता आयी है। विदेशों में पैसा जमा करने वाली बात भी इससे खत्म हुयी है।" उन्होंने कहा, ‘‘जीएसटी भी स्वाधीनता के बाद का सबसे बड़ा आर्थिक सुधार है और नोटबंदी ने काले धन पर नकेल कसी है।’’
केंद्रीय मंत्री ने कहा, "हम अपने सभी प्रमुख फैसलों का जिक्र करते हैं। कुछ नीतियां ऐसी होती है जिसके परिणाम लंबे समय के बाद मिलते हैं। इन विषयों पर जनता भी चर्चा कर रही है और जनता को ही फैसला भी करना है।" यह कहे जाने पर कि कई जानकार लोग मान रहे हैं कि चुनावों में किसी भी दल को पूर्ण बहुमत नहीं मिलने वाला है, गडकरी ने कहा, ‘‘भाजपा को पिछले चुनाव से ज्यादा सीट मिलेंगी और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के सहयोगियों की सीटें भी बढ़ेंगी, जिसके बलबूते भाजपा सरकार बनायेगी।’’

 
समान समाचार  
livehindustansamachar.com
     
कश्मीर में शांति भंग करना चाहता है पाकिस्तान, हम ऐसा नहीं होने देंगे: सेना

श्रीनगर ब्यूरो
सेना ने शुक्रवार को कहा कि नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पास स्थिति नियंत्रण में है और काफी हद तक शांतिपूर्ण है। सेना ने कहा कि वह पाकिस्तान को कश्मीर में शांति भंग करने नहीं देगी। सेना की 15वीं कोर के कमांडर लेफ्

read more..

कश्मीर में शांति भंग करना चाहता है पाकिस्तान, हम ऐसा नहीं होने देंगे: सेना

राहुल का इस्तीफा सर्वसम्मति से नामंजूर,चुनाव हारे हैं साहस नहीं : कांग्रेस

बहिनजी चतुर खिलाड़ी, छोटे नेता को समेटा : भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ

प्रज्ञा ठाकुर का व्यवहार आदतन अपराधी का, वह साध्वी नहीं : भूपेश बघेल

योगी और आजम खान को एक जैसा दंड ,जबकि दोनों के अपराध में अंतर : उमा

नियंत्रण रेखा पर पाक ने 513 बार संघर्ष विराम का किया उल्लंघन : सेना

डांसर सपना चौधरी ने कांग्रेस में शामिल होने की खबरों से किया इनकार !

चुनाव आयोग की चेतावनी, सबरीमाला मुद्दे का इस्तेमाल न करें पार्टियां

जन औषधि दिवस : पीएम के उद्गार सुनने जनऔषधि केंद्र पर उमड़े लोग

एयर स्ट्राइक पर पूर्व रॉ प्रमुख ने कहा- राष्ट्रीय सुरक्षा पर न हो राजनीति

पुलवामा हमला भारत के खिलाफ अप्रत्यक्ष युद्ध, रोज शहीद हो रहे हैं जवान !

PM के भाई ने कहा-300 से ज्यादा सीटें जीतेगी NDA,फिर सत्ता में लौटेंगे मोदी

कुसमरिया का कांग्रेस में आना सिर्फ ट्रेलर, पिक्चर अभी बाकी है: कमलनाथ

पाक व पीओके में चल रहे 16 आतंकी कैंप, घाटी में सक्रिय 450 आतंकी: सेना

उत्तरप्रदेश नहीं देश में होगी प्रियंका गांधी वाड्रा की भूमिका : राहुल गांधी

चंदौसी में कोलकाता पुलिस कमिश्नर की मां का बयान, मेरा बेटा ईमानदार !

24 घंटे में सुलझा सकते हैं अयोध्या विवाद : सीएम योगी आदित्यनाथ

कलेक्टर ने पत्रकार वार्ता में पत्रकारों से की जिले के विकास पर चर्चा

मायावती पर भाजप MLA की अभद्र टिप्पणी : प्रियंका ने कहा-सभ्य समाज में स्वीकार नहीं

शांति का टापू कहा जाने वाला मध्यप्रदेश बन रहा केरल और पश्चिम बंगाल : मिश्रा

ढाई नहीं, मैं पूरे पांच साल रहूंगा छत्तीसगढ़ का मुख्यमंत्री : CM भूपेश बघेल

मोदी सरकार से लोग परेशान, नए PM की बाट जोह रहा है देश : अखिलेश

अतिआत्मविश्वास से कांग्रेस विंध्य में नहीं जीत पाई : राज्यसभा सांसद राजमणि पटेल

सपा-बसपा के गठबंधन से भाजपा में बेचैनी : सपा प्रदेश अध्यक्ष

मुख्यमंत्री कमलनाथ के निर्णय की रीवा जिले के युवाओ ने की प्रशंसा

भाजपा के मुंह से लोकतंत्र की बात शैतान के मुंह से प्रवचन जैसा : प्रदीप सिंह

मोदी का मजाक उड़ाते हैं ट्रंप और भाजपा चुप रहती है, जवाब दो : कांग्रेस

माया-अखिलेश के गठबंधन में डॉ. लोहिया की चिट्ठी की अहम भूमिका

2019 का चुनाव विकास, और देश के आत्मसम्मान मुद्दे पर लड़ेंगे : भाजपा

कांग्रेस ने नभ, थल और जल में किया घोटाला : CM योगी आदित्यनाथ

voice news
हमारे रिपोर्टर  
 
 
View All हमारे रिपोर्टर
पंचांग-पुराण   
''नम: शिवाय'' शिव पंचाक्षरी मंत्र के जाप से हो जाता है असाध्य रोगों का नाश
बकरीद के चांद के हुए दीदार, 12 अगस्त को मनेगी ईद उल अजहा
भगवान शिव के मंदिर में हुआ चमत्कार, नंदी और गणेश की प्रतिमा पीने लगी दूध
बहुत झूठ बोलते हैं इन तीन राशि के जातक,ऐसे लोगों से ना करें दोस्ती
श्रावण का पहला सोमवार : श्रद्धालुओं के लिए डेढ़ घंटे पहले जागे महाकाल
live tv
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
 
पंचांग-पुराण   
राशिफल अंक राशि
शुभ पंचांग कुम्भ [ महाकुम्भ ]
आस्था प्रवचन
हस्तरेखा वास्तु
रत्न फेंग शुई
कुंडली विशेष दिवस
सुविचार व्रत -उपवास
प्रेरक प्रसंग
 
लाइव अपडेट  

लाइव हिंदुस्तान समाचार

[ न्यूज़ पोर्टल & न्यूज़ एप ]
फेसबुक,ट्वीटर , गूगल प्लस , लिंक्डइन , इंस्टाग्राम सहित अन्य शोसल प्लेटफार्म से जुड़ने [ लाइव हिंदुस्तान समाचार ] [ livehindustansamachar ] की साइट से या पेज को फॉलो कर करके जुड़ सकते है |  
अधिक जानकारी के लिए संपर्क करे : 9425330281,9893112422

 
समाचार चैनल  
स्थानीय राजनीति
खेल स्वास्थ्य
बिज़नेस अपराध
जीवन शैली शिक्षा
स्ट्रिंग धरोहर
प्रदर्शन शासन
सम्पादकीय अंतर्राष्ट्रीय
सोशल मीडिया कैरियर
मनोरंजन न्यायालय
घटना अनुसंधान
ब्लॉग पुरस्कार
आयोग निर्वाचन
कार्यक्रम टेक्नोलॉजी
संगठन मौसम
रिपोर्ट भष्ट्राचार
कृषि E-PAPER
कॉन्फ्रेंस विज्ञापन
सदन योजना
प्रशासन लाइव हिंदुस्तान समाचार
 
Submit Your News
 
 
 | होम  | धरोहर  | राजनीति  | भष्ट्राचार  | स्थानीय  |  कृषि  | कॉन्फ्रेंस  | घटना  | लाइव हिंदुस्तान समाचार  | अनुसंधान  | योजना  | टेक्नोलॉजी  | प्रदर्शन  | न्यायालय  | स्ट्रिंग  | अपराध  | पुरस्कार  | शासन  | विज्ञापन  | अंतर्राष्ट्रीय  | कैरियर  | कार्यक्रम  | सदन  | बिज़नेस  | E-PAPER  | सोशल मीडिया  | ब्लॉग  | मौसम  | आयोग  | निर्वाचन  | मनोरंजन  | स्वास्थ्य  | खेल  | प्रशासन  | शिक्षा  | रिपोर्ट  | सम्पादकीय  | संगठन  | जीवन शैली  | राजस्थान  | गुजरात  | असम  | मणिपुर  | उत्तरांचल  | झारखंड  | उत्तर प्रदेश  | पश्चिम बंगाल  | मेघालय  | हिमाचल प्रदेश  | लक्ष्यदीप  | पंजाब  | तेलंगाना  | जम्मू और कश्मीर  | चंडीगढ़  | दादरा और नगर हवेली  | केरल  | तमिलनाडु  | मिजोरम  | बिहार  | हरियाणा  | त्रिपुरा  | सिक्किम  | आंध्र प्रदेश  | कर्नाटक  | गोवा  | नगालैंड  | पांडिचेरी  | उड़ीसा  | महाराष्ट्र  | मध्य प्रदेश  | अंडमान एवं निकोबार  | दिल्ली  | अरुणाचल प्रदेश  | छत्तीसगढ़  | दमन और दीव  | नियम एवं शर्तें  | गोपनीयता नीति  | विज्ञापन हमारे साथ  | हमसे संपर्क करें
 
livehindustansamachar.com Copyrights 2016-2017. All rights reserved. Design & Development By MakSoft
 
Hit Counter