Thursday 19th of September 2019
खोज

 
livehindustansamachar.com
समाचार विवरण  
 किसी मित्र को मेल पन्ना छापो   साझा यह समाचार मूल्यांकन करें      
Save This Listing     Stumble It          
 जम्मू-कश्मीर में परिसीमन की सुगबुगाहट, गृह मंत्री की राज्यपाल से चर्चा (Tue, Jun 4th 2019 / 22:35:10)

 


चन्द्रिका प्रसाद तिवारी
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह कार्यभार संभालने के बाद से ही ‘मिशन कश्मीर’ मोड में नजर आ रहे हैं। मंगलवार सुबह शुरू हुआ शाह की बैठकों का सिलसिला लंबा चला। इनमें जम्मू-कश्मीर में परिसीमन की तैयारियों से लेकर अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा पर लंबी चर्चाएं हुई। बैठक के बाद उन्होंने प्रदेश राज्यपाल सतपाल मलिक से फोन पर बात की। बताया जा रहा है कि बैठक में शाह ने गृह सचिव राजीव गौबा और कश्मीर मामलों के अतिरिक्त सचिव ज्ञानेश कुमार के साथ परिसीमन आयोग के गठन संबंधी फैसले लिए।
अधिकारियों ने कहा कि हालांकि बैठक में परिसीमन आयोग गठित करने पर कोई चर्चा नहीं हुई। प्रदेश भाजपा द्वारा परिसीमन की मांग के बीच, अधिकारियों ने कहा कि केन्द्र की नई सरकार विधानसभा क्षेत्रों के परिसीमन और अनुसूचित जातियों के लिए आरक्षित सीटों की संख्या तय करने के लिए परिसीमन आयोग का गठन कर सकती है।
जम्मू कश्मीर को अन्य राज्यों के बराबर ले जाते हुए, 2002 में तत्कालीन फारूक अब्दुल्ला सरकार ने राज्य संविधान में संशोधन करते हुए 2026 तक परिसीमन आयोग पर रोक लगाई थी। उनके बेटे और पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने मंगलवार को ट्वीट किया कि परिसीमन पर रोक 2026 तक पूरे देश में लागू है और इसके विपरीत कुछ गलत जानकारी वाले टीवी चैनल इस पर भ्रम पैदा कर रहे हैं, यह केवल जम्मू कश्मीर के संबंध में रोक नहीं है।
सूत्रों के मुताबिक, केंद्र सरकार विधानसभा चुनाव से पहले राज्य में परिसीमन करना चाहती है और इसकी तैयारी अंतिम चरण में है। सरकार जम्मू में प्रतिनिधित्व की असमानता दूर करने के लिए इस दिशा में शीघ्र कदम बढ़ना चाहती है। इस मसले पर गृह मंत्रालय और राज्यपाल एक-दूसरे के संपर्क में हैं। पिछले हफ्ते शनिवार को प्रदेश के राज्यपाल राज्यपाल मलिक ने शाह को कानून व्यवस्था और जमीनी हालात की जानकारी दी थी।
1995 में हुआ था परिसीमन
रियासत में आखिरी बार 1995 में परिसीमन हुआ था, जबकि राज्य के संविधान के मुताबिक हर 10 साल के बाद विधानसभा क्षेत्रों का परिसीमन किया जाना चाहिए। परिसीमन की जम्मू में लंबे समय से मांग चल रही है। यहां की पार्टियां कश्मीर में अधिक सीटें होने से नाराज हैं। इनका मानना है कि जम्मू को उसका हक नहीं मिला है। यहां विधानसभा की सीटें अधिक होनी चाहिए।
सूबे में आखिरी बार 1995 में परिसीमन किया गया था, जब राज्यपाल जगमोहन के आदेश पर 87 सीटों का गठन किया गया। विधानसभा में कुल 111 सीटें हैं, लेकिन 24 सीटों को रिक्त रखा गया है। संविधान के सेक्शन 47 के मुताबिक इन 24 सीटों को पाक अधिकृत कश्मीर के लिए खाली छोड़ गया है। शेष 87 सीटों पर चुनाव होता है।
राज्य के संविधान के मुताबिक हर 10 साल के बाद निर्वाचन क्षेत्रों का परिसीमन किया जाना चाहिए। यानी यहां सीटों का परिसीमन 2005 में किया जाना था, लेकिन फारूक अब्दुल्ला सरकार ने 2002 में इस पर 2026 तक के लिए रोक लगा दी थी। अब्दुल्ला सरकार ने जम्मू-कश्मीर जनप्रतिनिधित्व कानून 1957 और जम्मू-कश्मीर के संविधान में बदलाव करते हुए यह फैसला लिया था।
2011 की जनगणना
2011 की जनगणना के मुताबिक जम्मू संभाग की आबादी 5378538 है, जो राज्य की 42.89 फीसदी आबादी है। जम्मू संभाग 26200 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है यानी राज्य का 25.93 फीसदी क्षेत्र फल जम्मू संभाग के अंतर्गत आता है। यहां विधानसभा की कुल 37 सीटें हैं। कश्मीर  की आबादी 6888475 है, जो राज्य की आबादी का 54.93 फीसदी हिस्सा है। कश्मीर संभाग का क्षेत्रफल राज्य के क्षेत्रफल 15900 वर्ग किलोमीटर है, जो 15.73 प्रतिशत है। यहां से कुल 46 विधायक चुने जाते हैं। राज्य के 58.33 फीसदी क्षेत्रफ ल वाले लद्दाख संभाग में चार विधानसभा सीटें हैं।
सूत्रों के मुताबिक केंद्र सरकार यहां इसलिए परिसीमन पर जोर दे रही है ताकि एससी और एसटी समुदाय के लिए सीटों के आरक्षण की नई व्यवस्था लागू की जा सके। घाटी की किसी भी सीट पर आरक्षण नहीं है, लेकिन यहां 11 फीसदी गुज्जर-बक्करवाल और गद्दी जनजाति समुदाय के लोगों की आबादी है। जम्मू संभाग में सात सीटें एससी के लिए आरक्षित हैं, जिनका रोटेशन नहीं हुआ है। ऐसे में नए सिरे से परिसीमन से सामाजिक समीकरणों पर प्रभाव पड़ने की संभावना है।
संसद में बिल लाना होगा
यदि केंद्र सरकार ने परिसीमन आयोग का गठन किया तो इसके लिए संसद में बिल लाना होगा। चूंकि, राज्य में राष्ट्रपति शासन है। इस वजह से इसे राज्य के संविधान के अनुसार यहां से मंजूरी मिल जाएगी। इसलिए लोगों को संसद सत्र का इंतजार है।
राजनीतिक असंतुलन होगा खत्म
राजनीतिक पार्टियों का मानना है कि नए सिरे से परिसीमन होने से राज्य में राजनीतिक असंतुलन खत्म होगा। कश्मीर का सत्ता में वर्चस्व समाप्त हो जाएगा। कश्मीर में 349 वर्ग किलोमीटर क्षेत्रफल पर एक विधानसभा है, जबकि जम्मू में 710 वर्ग किलोमीटर पर। परिसीमन के लिए पांच चीजों को आधार बनाया जाता है जिसमें क्षेत्रफल, जनसंख्या, क्षेत्र की प्रकृति, कम्युनिकेशन सुविधा तथा इससे मिलता-जुलता अन्य कारण। पार्टियों का मानना है कि क्षेत्रफल अधिक होने के साथ ही क्षेत्र की भौगोलिक स्थिति भी विषम है। कम्युनिकेशन सुविधाओं का अभाव है। ऐसे में सभी परिस्थितियां जम्मू संभाग के हक में हैं।
अमरनाथ सुरक्षा का लिया जायजा
उधर, जल्द शुरू होने वाली अमरनाथ को लेकर भी गृह मंत्री शाह ने चर्चा की। मंगलवार को अमरनाथ यात्रा के सुरक्षा इंतजामों को लेकर उन्होंने गृह सचिव गाबा, जम्मू कश्मीर डिवीजन के एडिशनल सेक्रेटरी और खुफिया विभाग के अधिकारियों के साथ मुलाकात की। शनिवार को राज्यपाल मलिक से भी शाह ने यात्रा की सुरक्षा को लेकर बातचीत की थी।
2002 में लगी थी रोक
सभी परिस्थितियों के अनुसार जम्मू संभाग का हिस्सा अधिक बनता है। हमें हमारा हक चाहिए। इसके लिए पार्टी लगातार आवाज बुलंद करती रही है। 2002 में जब फारूक सरकार ने परिसीमन पर रोक लगाई थी तब भी विधानसभा में विरोध किया गया था।
हर्षदेव सिंह, चेयरमैन-पैंथर्स पार्टी

 
समान समाचार  
livehindustansamachar.com
     
देश में ई-सिगरेट पर प्रतिबंध, 3 साल की सजा और 1 लाख का लगेगा जुर्माना

नई दिल्ली ब्यूरो
केंद्र सरकार ने बुधवार को ई-सिगरेट को लेकर बड़ा फैसला लेते हुए इस पर देश में प्रतिबंध लगा दिया है। साथ ही इस ई-सिगरेट के विज्ञापनों पर भी प्रतिबंध लगाया गया है। बुधवार को दिल्ली में हुई केंद्रीय कैबिनेट क

read more..

देश में ई-सिगरेट पर प्रतिबंध, 3 साल की सजा और 1 लाख का लगेगा जुर्माना

मध्यप्रदेश में उच्च सदन यानी विधान परिषद के गठन की चर्चा गर्म

मंत्री सिंहदेव ने माना ट्रैफिक नियम टूटा,एसपी-कलेक्टर से बोले,चालान काट लें !

मोटर व्हीकल एक्ट : केंद्र बोला- राज्यों को हर हाल में लागू करना होगा कानून

X-PM मनमोहन सिंह से SPG सुरक्षा वापस , मिलेगी जेड प्लस सुरक्षा

कर्नाटक में नेताओं के फोन टैपिंग से गरमाई राजनीति, अब सीबीआई करेगी जांच

PM का राष्ट्र के नाम संबोधन : J&K और लद्दाख में हुई नए युग की शुरुआत

मध्‍यप्रदेश की हर पंचायत में बनेगा युवा शक्ति संगठन, यह है सरकार का उद्देश्‍य

राष्ट्रपति के अनुमोदन के बाद जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म

सुप्रीम कोर्ट की अनुमति के बिना मध्यप्रदेश में शुरू नहीं हो सकती पदोन्नति

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने उन्नाव पीड़िता के परिजनों से कहा- यूपी असुरक्षित, आप लोग मध्यप्रदेश में आजाओ हम आपको सुरक्षा देंगे

तीन तलाक की कुप्रथा से मुस्लिम महिलाओं को न्याय मिला : प्रधानमंत्री मोदी

कर्नाटक सरकार का फैसला : सरकारी बोर्ड-निगमों-आयोगों में नियुक्तिया रद्द

आनंदीबेन पटेल लेंगी यूपी के राज्यपाल पद व गोपनीयता की शपथ

महिला सुरक्षा ताक पर, निर्भया फंड से नहीं खर्च किया धन : स्मृति ईरानी

कर्नाटक में चौथी बार सीएम की कुर्सी पर विराजमान हुए बी एस येदियुरप्पा

गृह मंत्रालय ने सोशल इंजीनियरिंग साइबर हैकिंग को लेकर जारी किया अलर्ट

गो-वंशों की मौत पर सीएम सख्त, नौ अफसर सस्पेंड, दो डीएम से जवाब तलब

मिड-डे मील खाने से 3 साल में बीमार हुए 900 से अधिक बच्चे : मंत्रालय

कश्मीरी पंडितों की मर्जी नहीं, जरूरत है अलग टाउनशिप : राज्यपाल मलिक

आदिवासियों और अधिकारियों के बीच झड़प:दोषी को बख्शा नहीं जायेगा: CM

मध्य प्रदेश में जल्द लागू होगा अधिवक्ता प्रोटेक्शन एक्ट : मंत्री जीतू पटवारी

525 लोग ढो रहे हाथ से मैला, HC के निर्देश पर सर्वे करा रही CG सरकार

अविश्वास प्रस्ताव का सामना करने को तैयार कुमारस्वामी, कतरा रही भाजपा!

बच्चों को हॉर्मोन्स-केमिकल देना व पोर्नोग्राफी अब जघन्य अपराध

नितिन गडकरी से मिलीं सीधी सांसद रीती पाठक और जारी करा लिया पत्र

आम बजट में मध्यप्रदेश का 2677 करोड़ रुपए का हिस्सा कम किया : कमलनाथ

भ्रष्ट अफसरों और नेताओं पर कार्रवाई की तैयारी में मध्यप्रदेश सरकार

गुजरात से UP तक 12 हजार करोड़ की लागत से बिछेगी LPG लाइन : प्रधान

कांवड़ यात्रा में डीजे और माइक पर प्रतिबंध नहीं, लेकिन केवल भजन बजाने की अनुमति - योगी

voice news
हमारे रिपोर्टर  
 
 
View All हमारे रिपोर्टर
पंचांग-पुराण   
''नम: शिवाय'' शिव पंचाक्षरी मंत्र के जाप से हो जाता है असाध्य रोगों का नाश
बकरीद के चांद के हुए दीदार, 12 अगस्त को मनेगी ईद उल अजहा
भगवान शिव के मंदिर में हुआ चमत्कार, नंदी और गणेश की प्रतिमा पीने लगी दूध
बहुत झूठ बोलते हैं इन तीन राशि के जातक,ऐसे लोगों से ना करें दोस्ती
श्रावण का पहला सोमवार : श्रद्धालुओं के लिए डेढ़ घंटे पहले जागे महाकाल
live tv
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
 
पंचांग-पुराण   
राशिफल अंक राशि
शुभ पंचांग कुम्भ [ महाकुम्भ ]
आस्था प्रवचन
हस्तरेखा वास्तु
रत्न फेंग शुई
कुंडली विशेष दिवस
सुविचार व्रत -उपवास
प्रेरक प्रसंग
 
लाइव अपडेट  

लाइव हिंदुस्तान समाचार

[ न्यूज़ पोर्टल & न्यूज़ एप ]
फेसबुक,ट्वीटर , गूगल प्लस , लिंक्डइन , इंस्टाग्राम सहित अन्य शोसल प्लेटफार्म से जुड़ने [ लाइव हिंदुस्तान समाचार ] [ livehindustansamachar ] की साइट से या पेज को फॉलो कर करके जुड़ सकते है |  
अधिक जानकारी के लिए संपर्क करे : 9425330281,9893112422

 
समाचार चैनल  
स्थानीय राजनीति
खेल स्वास्थ्य
बिज़नेस अपराध
जीवन शैली शिक्षा
स्ट्रिंग धरोहर
प्रदर्शन शासन
सम्पादकीय अंतर्राष्ट्रीय
सोशल मीडिया कैरियर
मनोरंजन न्यायालय
घटना अनुसंधान
ब्लॉग पुरस्कार
आयोग निर्वाचन
कार्यक्रम टेक्नोलॉजी
संगठन मौसम
रिपोर्ट भष्ट्राचार
कृषि E-PAPER
कॉन्फ्रेंस विज्ञापन
सदन योजना
प्रशासन लाइव हिंदुस्तान समाचार
 
Submit Your News
 
 
 | होम  | कार्यक्रम  | मनोरंजन  | निर्वाचन  | बिज़नेस  | कैरियर  | राजनीति  | कॉन्फ्रेंस  | मौसम  | सदन  | रिपोर्ट  | ब्लॉग  | धरोहर  | अनुसंधान  | स्ट्रिंग  | खेल  | घटना  | अपराध  | पुरस्कार  | प्रदर्शन  | E-PAPER  | स्वास्थ्य  | योजना  |  कृषि  | विज्ञापन  | आयोग  | शिक्षा  | सोशल मीडिया  | प्रशासन  | जीवन शैली  | संगठन  | न्यायालय  | भष्ट्राचार  | अंतर्राष्ट्रीय  | शासन  | सम्पादकीय  | लाइव हिंदुस्तान समाचार  | टेक्नोलॉजी  | स्थानीय  | हरियाणा  | त्रिपुरा  | लक्ष्यदीप  | केरल  | मणिपुर  | कर्नाटक  | गोवा  | बिहार  | मध्य प्रदेश  | झारखंड  | दमन और दीव  | उत्तरांचल  | नगालैंड  | असम  | चंडीगढ़  | उड़ीसा  | राजस्थान  | अरुणाचल प्रदेश  | अंडमान एवं निकोबार  | महाराष्ट्र  | हिमाचल प्रदेश  | जम्मू और कश्मीर  | आंध्र प्रदेश  | पश्चिम बंगाल  | पंजाब  | मिजोरम  | तेलंगाना  | तमिलनाडु  | छत्तीसगढ़  | गुजरात  | उत्तर प्रदेश  | दिल्ली  | पांडिचेरी  | दादरा और नगर हवेली  | सिक्किम  | मेघालय  | नियम एवं शर्तें  | गोपनीयता नीति  | विज्ञापन हमारे साथ  | हमसे संपर्क करें
 
livehindustansamachar.com Copyrights 2016-2017. All rights reserved. Design & Development By MakSoft
 
Hit Counter