Wednesday 8th of July 2020
खोज

 
livehindustansamachar.com
समाचार विवरण  
 किसी मित्र को मेल पन्ना छापो   साझा यह समाचार मूल्यांकन करें      
Save This Listing     Stumble It          
 15 जुलाई को पहली बार चांद के दक्षिणी ध्रुव पर उतरेगा चंद्रयान- 2 (Fri, Jul 12th 2019 / 10:46:13)

 


नई दिल्ली ब्यूरो
खास बातें
    15 जुलाई को तड़के 02.51 बजे आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा से इसरो करेगा चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण
    1 सितंबर को स्वदेशी ऑर्बिटर, लैंडर और रोवर के साथ चांद की सतह पर उतरेगा
    लैंडर चांद की सतह पर भ्रमण करेगा और रोवर मिट्टी आदि के नमूने एकत्र करेगा
    चंद्रयान-1 अभियान में हुई थी चांद की सतह पर पानी की मौजूदगी की खोज

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के महत्वकांक्षी मिशन चंद्रयान-2 के लॉन्चिंग में अब मात्र तीन दिन का समय बचा है। लगभग एक हजार करोड़ रुपये की लागत वाले इस मिशन को जियोसिंक्रोनस सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल (जीएसएलवी) एमके- III रॉकेट से 15 जुलाई को तड़के 02.51 मिनट पर अंतरिक्ष में भेजा जाना है। इसके लिए सात जुलाई (रविवार) को श्री हरिकोटा के लॉन्च पैड पर जीएसएलवी मार्क तीन को स्थापित किया गया।
इसरो ने आठ जुलाई को अपनी वेबसाइट पर चंद्रयान की तस्वीरों को जारी किया। इसकी जानकारी देते हुए इसरो के अध्यक्ष डॉक्टर के सिवान ने इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ स्पेस साइंस एंड टेक्नोलॉजी (आईआईएसटी) के सातवें दीक्षांत समारोह में कहा कि चंद्रयान-2 को प्रक्षेपण यान के साथ एकीकृत कर दिया गया है।
अगर चंद्रयान-2 से चांद पर बर्फ की खोज हो पाती है तो भविष्य में यहां इंसानों का प्रवास संभव हो सकेगा। जिससे यहां शोधकार्य के साथ-साथ अंतरिक्ष विज्ञान में भी नई खोजों का रास्ता खुलेगा। लॉन्चिंग के 53 से 54 दिन बाद चांद के दक्षिणी ध्रुव पर चंद्रयान- 2 की लैंडिंग होगा और अगले 14 दिन तक यह डेटा जुटाएगा।
भारत चांद के दक्षिणी ध्रुव पर लैंडिंग करने वाला बनेगा पहला देश
के सिवान ने कहा, 'चंद्रयान-2 के जरिए इसरो चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर जा रहा है जहां आज तक कोई नहीं पहुंच पाया है। अगर हम उस जोखिम को लेते हैं तो वैश्विक वैज्ञानिक समुदाय को लाभ होगा। जोखिम और लाभ जुड़े हुए हैं।' चंद्रयान छह या सात सितंबर को चंद्रमा के दक्षिण ध्रुव के पास लैंड करेगा। ऐसा होते ही भारत चांद की सतह पर लैंडिंग करने वाला चौथा देश बन जाएगा।
चांद के दक्षिणी ध्रुव पर नहीं पहुंचती सूर्य की किरणें
चांद के दक्षिणी ध्रुव पर अब तक कोई भी देश नहीं जा सका है लेकिन अब यहां भारत अपने चंद्रयान- 2 को उतारकर इतिहास रचने जा रहा है। चांद के दक्षिणी ध्रुव पर सूर्य की किरणे सीधी नहीं बल्कि तिरछी पड़ती हैं। इसलिए, यहां का तापमान बहुत कम होता है।
चांद के दक्षिणी ध्रुव के अधिकतर भाग पर अंधेरा रहता है। इसके अलावा यहां बड़े-बड़े क्रेटर भी हैं जिनके गढ्ढों का तापमान -250 डिग्री के आसपास पहुंच जाता है। इतनी ठंड में लैंडर और रोवर को ऑपरेट करना बड़ी चुनौती है। माना जा रहा है कि इन क्रेटर्स में जीवाश्म के अलावा पानी भी बर्फ के रूप में मौजूद है।
चंद्रयान-2 को रास्ता दिखाएंगे आईआईटी कानपुर के वैज्ञानिक
चंद्रयान-2 के विशेष रोवर ‘प्रज्ञान’ के लिए कई तकनीक आईआईटी कानपुर में तैयार की गई हैं। इसमें सबसे अहम है मोशन प्लानिंग। मतलब चांद की सतह पर रोवर कैसे, कब और कहां जाएगा?
इसका पूरा खाका आईआईटी कानपुर के इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग विभाग के सीनियर प्रोफेसर केए वेंकटेश व मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग के सीनियर प्रोफेसर आशीष दत्ता ने मिलकर तैयार किया है।
प्रो. दत्ता के मुताबिक अंतरिक्ष यान का द्रव्यमान 3.8 टन है। इसमें तीन अहम मॉड्यूल हैं ऑर्बिटर, लैंडर (विक्रम) और रोवर (प्रज्ञान)। आईआईटी ने इसके मोशन प्लानिंग सिस्टम पर काम किया है। चन्द्रयान-2 के चांद पर उतरते ही मोशन प्लानिंग का काम शुरू हो जाएगा। इसके अलावा यान के संचालन में ज्यादा खर्च न हो इसके लिए भी वैज्ञानिकों ने काम किया है।
चंद्रयान- 1 से कितना अगल है चंद्रयान- 2
मिशन      चंद्रयान- 1     चंद्रयान- 2
लॉन्च की तारीख     22 अक्तूबर 2008     15 जुलाई 2019
लागत     386 करोड़ रुपये     978 करोड़ रुपये
वजन     1380 किलो     3877 किलो
10 साल में दूसरा भारतीय चंद्र मिशन
भारत के लिए यह गौरव का बात है कि 10 साल में दूसरी बार चांद पर मिशन भेज रहा है। चंद्रयान-1 2009 में भेजा गया था। हालांकि, उसमें रोवर शामिल नहीं था। चंद्रयान-1 में केवल एक ऑर्बिटर और इंपैक्टर था जो चांद के दक्षिणी ध्रुव पर पहुंचा था।
इसको चांद की सतह से 100 किमी दूर कक्षा में स्थापित किया गया था। चंद्रयान-1 भारत के 5, यूरोप के 3, अमेरिका के 2 और बुल्गारिया का एक पेलोड लेकर गया था।
लखनऊ की बेटी रितु हैं चंद्रयान-2 की रॉकेट वूमेन
चंद्रयान-2 की सफलता के बाज अंतरिक्ष विज्ञान के क्षेत्र में एक और उपलब्धि का जश्न मनाने के लिए पूरा देश तैयार है लेकिन लखनऊ के पास इतराने की एक और भी वजह है...। यहां के आंगन में पली-बढ़ी और पढ़ी बेटी इसरो की सीनियर साइंटिस्ट रितु करिधाल श्रीवास्तव चंद्रयान-2 की मिशन डायरेक्टर हैं। उनकी पहचान एक रॉकेट वूमेन के रूप में है।

livehindustansamachar.com
 
समान समाचार  
livehindustansamachar.com
     
धरती से नजर आएगा शुक्र ग्रह, बल्ब की तरह बिखेरेगा रोशनी

लाइव हिंदुस्तान समाचार
8 जुलाई को धरती से नजर आएगा शुक्र ग्रह, बल्ब की तरह बिखेरेगा रोशनी
जानिए चंद्रग्रहण के बाद जुलाई में होने वाली रोचक खगोलीय घटनाएं के बारे में। धरती से शुक्र और बुध ग्रह को देखने क

read more..

धरती से नजर आएगा शुक्र ग्रह, बल्ब की तरह बिखेरेगा रोशनी

कोवाक्सिन कोविड वैक्सीन 15 अगस्त तक लॉन्च कर सकता है IRMR

कोरोना को लेकर नए शोध का दावा, 43 % जनसंख्या पर हर्ड इम्यूनिटी संभव

सीवेज के गंदे पानी में शोधकर्ताओं को मिले सार्स-कोव-2 वायरस के कण

CSIR -CMERI वैज्ञानिकों ने बनाया स्वदेशी मैकेनिकल वेंटिलेटर

DRDO ने बनाई कोरोना की दवा, क्लीनिकल ट्रायल की मिली अनुमति

हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन के परीक्षण में अस्थायी रोक ,WHO के खिलाफ भारत में विरोध ,आईसीएमआर के बाद सीएसआईआर ने WHO को लिखा पत्र

Kovid-19 वायरस की माइक्रोस्कोपी तस्वीर भारतीय वैज्ञानिकों ने की खोज

कोरोना वायरस से निपटने के लिए भारतीय वैज्ञानिकों ने झोंकी ताकत

चंद्रयान-2 के सफल प्रक्षेपण के बाद ‘'सूर्य मिशन'’ की योजना पर ISRO

चंद्रग्रहण: 149 साल बाद बना दुर्लभ संयोग, दुनिया भर में दिखा रोमांच

डीआरडीओ ने आकाश-1एस एयर डिफेंस मिसाइल का किया सफल परीक्षण

मंगल के बाद अब शुक्र की तैयारी में इसरो, अगले 10 साल में लॉन्च होंगे सात वैज्ञानिक मिशन

केरल में खुलेगा देश का पहला ट्रांसजेंडर रिसर्च सेंटर, केरल और गोवा भी सहमत

13 राज्यों में होंगी साइबर फॉरेंसिक लैबोरेट्री और डीएनए जांच की सुविधा

भारत ने किया लंबी मारक क्षमता वाले दो रॉकेट का सफल परीक्षण

रूस से परमाणु संचालित पनडुब्बी लेने जा रहा है भारत,3 अरब डॉलर में सौदा

दुनिया के बेहतरीन लड़ाकू विमानों में शुमार राफेल विमान !

वैज्ञानिकों को मंगल की सतह पर मिले प्राचीन झीलों के भूगर्भीय साक्ष्य

जापान जाएगी केले के छिलके से sanitary pad बनाने वाली होनहार छात्रा रीना

जमीन से हवा में मार करने वाली ''एलआरएसएएम’' मिसाइल का सफल प्रयोग

फॉर द स्टडी ऑफ कफ : खांसी को ठीक करने के लिए सिरप से अच्छी है चॉकलेट

2021 तक गगनयान को अंतरिक्ष में भेजने का लक्ष्य : ISRO चीफ

पोटेटो रिसर्च इंस्टीट्यूट ने बनाया आलू का दलिया, बिस्किट, सूजी का हलवा !

तीन भारतीय करेंगे अंतरिक्ष यात्रा, परियोजना के लिए 10 हजार करोड़ मंजूर

ओडिशा तट से बैलिस्टिक मिसाइल अग्नि- 4 का सफल परीक्षण

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ने लांच किया 39 वां जीसैट-7ए उपग्रह

नासा के कंप्यूटर वैज्ञानिक का दावा, धरती पर आ चुके हैं एलियंस

भारत के सबसे भारी उपग्रह जीसैट-11 का फ्रेंच गुयाना से सफल प्रक्षेपण

IIT कानपुर के वैज्ञानिको की पहल , दिल्ली में होगी कृत्रिम बारिश

voice news
हमारे रिपोर्टर  
 
 
View All हमारे रिपोर्टर
पंचांग-पुराण   
मोक्षदायिनी और पुण्यफल देने वाली देवशयनी एकादशी की पूजाविधि और शुभ मुहूर्त
कांवड़ यात्रा की अनुमति देने से झारखंड सरकार ने किया इन्कार
30 दिन के अंतर में 3 ग्रहणों का संयोग ,खुशियां लेकर आ रहा है सूर्य ग्रहण
Nirjala Ekadashi : सभी व्रत, उपवासों में निर्जला एकादशी सर्वश्रेष्ठ
आमलकी एकादशी : व्रत से मिलता है सुख और होती है मोक्ष की प्राप्ति
live tv
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
 
पंचांग-पुराण   
राशिफल अंक राशि
शुभ पंचांग कुम्भ [ महाकुम्भ ]
आस्था प्रवचन
हस्तरेखा वास्तु
रत्न फेंग शुई
कुंडली विशेष दिवस
सुविचार व्रत -उपवास
प्रेरक प्रसंग
 
लाइव अपडेट  
लाइव हिंदुस्तान समाचार
 
समाचार चैनल  
स्थानीय राजनीति
खेल COVID-19
बिज़नेस अपराध
व्यायाम जीवन शैली
शिक्षा राष्ट्रीय
सम्पादकीय अंतर्राष्ट्रीय
सोशल मीडिया कैरियर
मनोरंजन न्यायालय
आपदा अनुसंधान
ब्लॉग निर्वाचन
टेक्नोलॉजी मौसम
रिपोर्ट भष्ट्राचार
कॉन्फ्रेंस सदन
योजना रिजल्ट
प्रशासन लाइव हिंदुस्तान समाचार
 
Submit Your News
 
 
 | होम  | प्रशासन  | कॉन्फ्रेंस  | राजनीति  | मौसम  | अंतर्राष्ट्रीय  | योजना  | भष्ट्राचार  | सम्पादकीय  | सोशल मीडिया  | रिपोर्ट  | लाइव हिंदुस्तान समाचार  | व्यायाम  | खेल  | बिज़नेस  | ब्लॉग  | अनुसंधान  | मनोरंजन  | राष्ट्रीय  | कैरियर  | न्यायालय  | स्थानीय  | सदन  | आपदा  | टेक्नोलॉजी  | COVID-19  | निर्वाचन  | रिजल्ट  | शिक्षा  | अपराध  | जीवन शैली  | कर्नाटक  | उत्तरांचल  | गुजरात  | उत्तर प्रदेश  | असम  | लद्दाख  | तमिलनाडु  | केरल  | मिजोरम  | दमन और दीव  | मध्य प्रदेश  | गोवा  | झारखंड  | नगालैंड  | अरुणाचल प्रदेश  | तेलंगाना  | दादरा और नगर हवेली  | बिहार  | पंजाब  | अंडमान एवं निकोबार  | त्रिपुरा  | मेघालय  | आंध्र प्रदेश  | हरियाणा  | सिक्किम  | लक्ष्यदीप  | दिल्ली  | पश्चिम बंगाल  | जम्मू और कश्मीर  | राजस्थान  | मणिपुर  | पांडिचेरी  | महाराष्ट्र  | छत्तीसगढ़  | उड़ीसा  | हिमाचल प्रदेश  | चंडीगढ़  | नियम एवं शर्तें  | गोपनीयता नीति  | विज्ञापन हमारे साथ  | हमसे संपर्क करें
 
livehindustansamachar.com Copyrights 2016-2017. All rights reserved. Design & Development By MakSoft
 
Hit Counter