Monday 14th of October 2019
खोज

 
livehindustansamachar.com
समाचार विवरण  
 किसी मित्र को मेल पन्ना छापो   साझा यह समाचार मूल्यांकन करें      
Save This Listing     Stumble It          
 दुनिया से कट जाता है बारिश में पहाड़ियों के बीच बसा ये गांव,फिर भी खुशहाल (Sun, Jul 14th 2019 / 10:48:42)

 


जगदलपुर ब्यूरो
जिंदगी में लक्जरी की चाहत इंसान के अंदर बढ़ती जा रही है। लोग जीवन की बेहतर सुविधाओं की चाहत में गांवों को छोड़कर शहर आते हैं। गांवों में रह रहे लोग शहरी सुविधाओं का गांव में ही अब उपयोग कर पा रहे हैं, ऐसे दौर में छत्तीसगढ़ के बस्तर में एक ऐसा गांव भी है जो इस तरह की सुख-सुविधाओं से कोसों दूर है।
यहां बिजली-पानी जैसी बुनियादी सुविधाएं भी नहीं हैं। मोबाइल नेटवर्क की तो आप यहां कल्पना भी नहीं कर सकते। और तो और बारिश के दिनों में चार पहाड़ियों से घिरे कुडूमखोदरा गांव का संपर्क देश-दुनिया से कट जाता है। इस सबके बावजूद इस गांव में जिंदगी बेहद खुशहाल है। शायद नक्सलवाद से लड़ रहे बस्तर का यह सबसे खुशहाल गांव है, जहां लोग बाहरी कोलाहल से दूर सुकून की जिंदगी जी रहे हैं।
बस्तर जिले में चार पहाड़ियों के बीच गहरी खाई में कुडूमखोदरा गांव के लोगों को सुख सुविधाओं की चाह नहीं है। उनकी अपनी अलग जिंदगी है। आसमान छूते पेड़ों वाला जंगल, कल-कल बहता झरना, तरह-तरह के फूलों की खुश्बू और एक सुकून देवी वाली हवा के साथ ही इस गांव में बहुत कुछ है।
यहां पिछले 200 वर्षों से जिंदगी आबाद है। चार पहाड़ी नाले और दुर्गम मार्ग होने के कारण यहां बारिश के दिनों में देश-दुनिया से यहां के लोगों का संपर्क कट जाता है। यहां मोबाइल और इंटरनेट की भी पहुंच नहीं है, इसके बावजूद यहां के लोग अपनी जिंदगी में खुशहाल हैं। यह गांव दरभा ब्लॉक के इस पूर्व पंचायत का हिस्सा है।
दंडकारण्य पठार में पहुंचने के लिए केशकाल घाट चढ़कर 7 किलोमीटर ऊपर जाना पड़ता है। इसी रास्ते पर दूसरी तरफ कुडूमखोदरा तक पहुंचने के लिए लोगों को 60 किलोमीटर नीचे गहरी घाटी में उतरना पड़ता है। यह गांव तीरथगढ़ जलप्रपात से करीब 25 किलोमीटर दूर है और पहली बार मीडिया की टीम बारिश के दिनों में यहां तक पहुंची है।
कधो वन मार्ग और चार पहाड़ी नालों को पार कर जब कुडूमखोदरा पहुंचे और चारों तरफ नजर घुमाकर देखा तो यह जगह एक लैंडलॉक एरिया जैसी नजर आई, जो चारों ओर पहाड़ से घिरी है। सबसे पहले सरकारी स्कूल का भवन दिखाई दिया। यहां पहुंचे तो स्कूल में कुल 22 बच्चे थे, जो पढ़ाई में मशगूल दिखे।
गांव के लोग ग्रामीण कृषि कार्य में व्यस्त दिखे। आगे आंगनबाड़ी में 18 बच्चे खेलते मिले। गांव में 25 साल पहले वन विभाग द्वारा स्कूल भवन, आंगनबाड़ी, मनोरंजनगृह का निर्मांण किया गया था। इसी समय यहां बिजली पहुंचाने की तैयारी हुई। खंबे लगाए गए और तार भी बिछाए गए, लेकिन दुर्भाग्य यह है कि गांव में बिजली आज तक नहीं पहुंची।
चार पहाड़ियों से घिरे इस गांव के उत्तर में टांगरी, दक्षिण में साधु, पूर्व में तूरे और पश्चिम में उदय नाम की पहाड़ियां हैं। इन पहाड़ियों से पानी बस्ती में आता है और यही इस गांव के जीवन का आधार है। यह गांव स्कूल पारा और लोहरा पारा नामक दो बस्तियों में बंटा है।
गांव की कुल आबादी 403 है जो 102 घरों में रहते हैं। इस गांव में रहने वाले ज्यादातर माडिया आदिवासी परिवार हैं। यहां के ग्रामीण बताते हैं कि यह बस्ती करीब 200 साल पुरानी है। किसी जमाने में यहां राज परिवार के सदस्य और अंग्रेज अफसर शिकार के लिए आते थे, इसलिए वन विभाग ने नीचे बस्ती तक मोर्चा बनाया था। यहां के ग्रामीण कोदो-कुटकी के अलावा साग सब्जी उपजाते हैं।
इसके बाद पहाड़ी पार कर आसपास के हाट बाजारों में उसे बेचने जाते हैं। वनोपज भी इनकी आजीविका का मुख्य आधार है। बिसपुर से साढ़े सात किलोमीटर दूर कुडूमखोदरा मार्ग में चार पहाड़ी नाले हैं। बारिश के दिनों में जब इसमें पानी चढ़ता है, तक रास्ता दलदल में तब्दील हो जाता है।
बारिश के दिनों में यहां से आवागमन बिल्कुल बंद हो जाता है। जिंदगी और मौत का सवाल जब खड़ा होता है तो यहां के लोग इस दलदल को भी पार कर जाते हैं। यहां के ग्रामीण कहते हैं कि उनके गांव में जो खुशहाली और शांति है, वह दुनिया में और कहीं नहीं, इसलिए वे इस गांव से दूर नहीं जाना चाहते। अपनी इस छोटी सी दुनिया में इस गांव के लोग पूरी तरह खुश और आबाद हैं।

livehindustansamachar.com
 
समान समाचार  
livehindustansamachar.com
     
तोहफा लेने के बजाए प्रियजनों को देने से 5 गुना बढ़ जाती है खुशी !

अश्वनी तिवारी
पूरी दुनिया में नए साल के स्वागत की तैयारियां चल रही है। कुछ लोग घर से दूर परिवार के साथ छुट्टियों पर जाने का प्लान बना रहे हैं तो कुछ नए साल पर प्रियजनों को दिए जाने वाले गिफ्ट को लेकर माथा

read more..

तोहफा लेने के बजाए प्रियजनों को देने से 5 गुना बढ़ जाती है खुशी !

देश में खतरनाक रूप से बढ रहे हैं एक्‍सट्रा मैरिटल अफेयर

पिता कैंसर से जूझ रहे, मां पर प्रताड़ना का आरोप, छात्र ने मांगी इच्छा मृत्यु

प्रयागराज से गायब युवती का परिवार भोपाल पहुंचा, लड़के के घर पर मचा हंगामा

चट मंगनी, पट ब्याह : लड़का देखने गए, पसंद आया तो तुरंत करा दी शादी

प्‍याज खाने से हैं सेहत के कई फायदे, इन तकलीफों से मिलती है निजात

गुलाब के फूल का सौंदर्य प्रसाधन के रूप में भी हो सकता है इस्‍तेमाल

हनीमून के दौरान बीवी ने मांगी बीयर, खतरे में पड़ गई शादीशुदा जिंदगी

बेटे को डॉक्टर बनाने के लिए दिव्यांग पिता बेचना चाहता है अपनी किडनी !

मोहब्बत के आगे हारी ''ममता'’, मासूमों को श्मशान के बाहर छोड़ प्रेमी संग भागी मां

ज्योतिरादित्य सिंधिया 374 करोड़ के आसामी ,11 करोड़ का सोना-चांदी

दो महिला क्रिकेटर्स ने की आपस में शादी, PHOTOS इंटरनेट पर वायरल

61 साल की महिला ने ''गे'' बेटे का सपना किया पूरा, अपनी ही पोती को जन्मा

यूपी के बागपत का संजीव जांगड़ा अपने दांतों से उठा लेता है सत्तर किलो वजन

दो बच्चे पैदा करने पर स्थानीय महिलाओं को प्रोत्साहित करेगी सिक्किम सरकार

दहेज में नहीं मिले 2 लाख, पति ने व्हाट्सएप पर दिया ट्रिपल तलाक

फतेहगढ़ में पहली बार पुलिस के साए में निकला दलित का बाना

वैलेंटाइन-DAY : केमिस्ट्री, फिजिक्स और मैथ्स के तालमेल से होता है LOVE

...... जब दूल्हे के यहाँ एक ही परिवार में बरात लेकर पहुंचीं तीन दुल्हनें

45 साल के व्यक्ति से विवाह के लिए अड़ गई 16 साल की किशोरी

MP में आदिवासी MLA के पास पक्का मकान नहीं,जनता जुटा रही चंदा

हार्दिक ने बचपन की दोस्त किंजल को बनाया अपनी अर्धांगनी

मृतात्मा की समाधि : पनिका समुदाय घर में ही दफना देता है मृतक

पत्नी को नहीं हुआ बच्चा, सऊदी अरब में बैठे पति ने व्हाट्सएप पर दिया तीन तलाक

वेडिंग वेडिंग नाइट सेक्सी भी नहीं थी सेक्स भी नहीं था पर बहुत कुछ था !

बेगुनाहों की मौत की तेरहवीं पर खाकी बनी हमदर्द

पत्नी के प्रेगनेंट होते ही दूसरी शादी कर लेता है पति, हर घर की यही कहानी

फरवरी में ससुराल आएंगी बिग बॉस-12 की विनर दीपिका

हिन्दू-मुस्लिमों ने पंचायत कर क्षेत्र में गोकशी नहीं होने देने की ली शपथ

तीन तलाक पीड़ित मुस्लिम महिला अब हिंदू औरतों को दिला रही इंसाफ

voice news
हमारे रिपोर्टर  
 
 
View All हमारे रिपोर्टर
पंचांग-पुराण   
शारदीय नवरात्र 2019 : उज्जैन में कलेक्टर ने लगाया माता को मदिरा का भोग
नवरात्रि में नौ कन्या का महत्व : नवरात्रि में कन्या और देवी पूजन एक समान
''नम: शिवाय'' शिव पंचाक्षरी मंत्र के जाप से हो जाता है असाध्य रोगों का नाश
बकरीद के चांद के हुए दीदार, 12 अगस्त को मनेगी ईद उल अजहा
भगवान शिव के मंदिर में हुआ चमत्कार, नंदी और गणेश की प्रतिमा पीने लगी दूध
live tv
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
 
पंचांग-पुराण   
राशिफल अंक राशि
शुभ पंचांग कुम्भ [ महाकुम्भ ]
आस्था प्रवचन
हस्तरेखा वास्तु
रत्न फेंग शुई
कुंडली विशेष दिवस
सुविचार व्रत -उपवास
प्रेरक प्रसंग
 
लाइव अपडेट  
लाइव हिंदुस्तान समाचार अधिक जानकारी के लिए संपर्क करे : 9425330281,9893112422
 
समाचार चैनल  
स्थानीय खेल
स्वास्थ्य बिज़नेस
अपराध जीवन शैली
शिक्षा सम्पादकीय
अंतर्राष्ट्रीय सोशल मीडिया
जॉब मनोरंजन
न्यायालय आपदा
अनुसंधान निर्वाचन
कार्यक्रम टेक्नोलॉजी
रिपोर्ट कॉन्फ्रेंस
सदन प्रशासन
 
Submit Your News
 
 
 | होम  | निर्वाचन  | सम्पादकीय  | कॉन्फ्रेंस  | बिज़नेस  | सोशल मीडिया  | स्थानीय  | प्रशासन  | शिक्षा  | सदन  | आपदा  | जॉब  | अनुसंधान  | जीवन शैली  | अंतर्राष्ट्रीय  | रिपोर्ट  | खेल  | मनोरंजन  | टेक्नोलॉजी  | कार्यक्रम  | न्यायालय  | स्वास्थ्य  | अपराध  | दमन और दीव  | त्रिपुरा  | आंध्र प्रदेश  | अंडमान एवं निकोबार  | गोवा  | मिजोरम  | लक्ष्यदीप  | अरुणाचल प्रदेश  | उत्तर प्रदेश  | उत्तरांचल  | उड़ीसा  | नगालैंड  | दिल्ली  | सिक्किम  | छत्तीसगढ़  | मणिपुर  | हरियाणा  | गुजरात  | पंजाब  | तमिलनाडु  | पश्चिम बंगाल  | पांडिचेरी  | केरल  | चंडीगढ़  | महाराष्ट्र  | बिहार  | तेलंगाना  | राजस्थान  | दादरा और नगर हवेली  | हिमाचल प्रदेश  | कर्नाटक  | मध्य प्रदेश  | असम  | जम्मू और कश्मीर  | झारखंड  | मेघालय  | नियम एवं शर्तें  | गोपनीयता नीति  | विज्ञापन हमारे साथ  | हमसे संपर्क करें
 
livehindustansamachar.com Copyrights 2016-2017. All rights reserved. Design & Development By MakSoft
 
Hit Counter