Saturday 21st of September 2019
खोज

 
livehindustansamachar.com
समाचार विवरण  
 किसी मित्र को मेल पन्ना छापो   साझा यह समाचार मूल्यांकन करें      
Save This Listing     Stumble It          
 देश में प्रेस की स्वतंत्रता वनवे ट्रैफिक नहीं हो सकती : सुप्रीम कोर्ट (Wed, Aug 28th 2019 / 07:43:29)

 


लाइव हिंदुस्तान समाचार
सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को न्यूज पोर्टल द वायर की याचिका पर सुनवाई करते हुए देश में प्रेस की स्वतंत्रता को लेकर एक तीखी और कठोर टिप्पणी की। शीर्ष अदालत ने कहा, प्रेस की स्वतंत्रता सर्वोच्च है, लेकिन यह वनवे ट्रैफिक जैसी नहीं हो सकती। पीत पत्रकारिता को कोई जगह नहीं मिलनी चाहिए। सुप्रीम कोर्ट की पीठ ने यह तीखी टिप्पणी तब की, जब वह न्यूज पोर्टल की तरफ से अपनी याचिका वापस लेने के लिए लगाई गई गुहार पर सुनवाई कर रही थी।
न्यूज पोर्टल ने गृह मंत्री अमित शाह के बेटे जय शाह की तरफ से दाखिल मानहानि मामले में गुजरात हाईकोर्ट की तरफ से मुकदमा चलाने के लिए दिए गए आदेश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई थी, जो करीब डेढ़ वर्ष से लंबित पड़ी थी। शीर्ष अदालत ने इस याचिका को वापस लेने की इजाजत न्यूज पोर्टल को दे दी। जय शाह ने यह अवमानना याचिका न्यूज पोर्टल में लिखे गए एक लेख के खिलाफ दाखिल की थी। शीर्ष अदालत ने निचली अदालत को भी न्यूज पोर्टल के खिलाफ अवमानना मुकदमे को जल्द से जल्द पूरा करने के निर्देश दिए।
जस्टिस अरुण मिश्रा की अध्यक्षता वाली पीठ के सामने न्यूज पोर्टल की तरफ से वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने याचिका वापस लेने की गुहार लगाई। उन्होंने कहा कि उनके वादी गुजरात की अदालत में ट्रायल झेलना चाहते हैं। सुनवाई के दौरान पीठ ने देश में पत्रकारिता के वर्तमान चलन को लेकर बेहद नाराजगी जताई, जिससे हालिया दिनों में न्यायपालिका भी बेहद प्रभावित रही है। पीठ ने कहा कि यह फैशन बन गया है कि किसी भी व्यक्ति से जवाब मांगने के लिए नोटिस जारी किया जाए और 5-6 घंटे में ही उसके जवाब देने से पहले कोई भी लेख प्रकाशित कर दिया जाए। पीठ ने कहा, हमने बहुत कुछ झेला है। यह किस प्रकार की पत्रकारिता है। यह एक गंभीर मुद्दा है। हमें इस मुद्दे पर स्वत: संज्ञान लेकर कार्रवाई क्यों नहीं करनी चाहिए? हम इस अदालत के जज के तौर पर बेहद चिंतित हैं। पीठ ने कहा कि उचित वक्त पर इस मसले पर विचार किया जाएगा।
टिप्पणी को लेकर हुई तीखी बहस
जस्टिस मिश्रा के अतिरिक्त जस्टिस एमआर शाह और जस्टिस बीआर गावई की मौजूदगी वाली पीठ की टिप्पणी के कारण सुनवाई के दौरान दोनों पक्षों के बीच तीखी बहस भी हुई। पीठ ने कहा कि हम देश को बहुत कुछ कहना चाहते हैं, लेकिन हम कहेंगे नहीं, क्योंकि केस को वापस ले लिया गया है।
इस पर सिब्बल ने कहा कि वह भी कुछ कहना चाहते हैं, लेकिन वह भी नहीं कहेंगे। सिब्बल ने पीठ की तरफ से की गई टिप्पणियों पर आपत्ति जताई। सिब्बल ने कहा कि उनके मुवक्किल निचली अदालत में मुुकदमे का सामना करना चाहते हैं, लेकिन सुप्रीम कोर्ट की तरफ से अपने आदेश में की गई ऐसी टिप्पणियां उनके मामले को ट्रायल के दौरान प्रभावित कर सकती हैं। इस पर पीठ ने अपने आदेश में कहा कि सुनवाई के दौरान की गई टिप्पणियों से ट्रायल के दौरान मामला प्रभावित नहीं होगा।

 
समान समाचार  
livehindustansamachar.com
     
आरक्षित और अनारक्षित वर्ग के लिए अलग साक्षात्कार गैरकानूनी: सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली ब्यूरो
सुप्रीम कोर्ट ने चयन प्रक्रिया में सामान्य और आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए अलग-अलग साक्षात्कार आयोजित करने को गैरकानूनी बताया है। शीर्ष अदालत ने कहा कि साक्षात्कार को उम्मीदव

read more..

आरक्षित और अनारक्षित वर्ग के लिए अलग साक्षात्कार गैरकानूनी: सुप्रीम कोर्ट

नाबालिग से दुष्कर्म करने वाले को न्यायालय ने सुनाई 14 साल की सश्रम सजा

ED केस में चिदंबरम को राहत, सिब्बल का हाईकोर्ट पर गंभीर आरोप !

शिकायतकर्ता की गैरहाजिरी में खारिज नहीं होगा मुकदमा : इलाहाबाद हाईकोर्ट

अदालतों में बढ़ रहे अमर्यादित आचरण के मामले, सुनिश्चित हो न्यायपालिका की गरिमा : सीजेआई

दुष्कर्म पीड़िताओं की मांग, अंगुलियों से परीक्षण पर डॉक्टरों का लाइसेंस हो रद्द

क्या UN भारत के संविधान संशोधन पर रोक लगा सकता है ? : सुप्रीम कोर्ट

जे&के में व्यभिचार को अपराध बताने वाला कानून असांविधानिक : सुप्रीम कोर्ट

हाई कोर्ट की फुल बेंच ने शिक्षाकर्मियों को हेड मास्टर बनाने पर स्टे रखा यथावत

दिल्ली हाईकोर्ट ने दिल्ली पुलिस से पूछा, एफआईआर में उर्दू-फारसी शब्द क्यों ?

सुप्रीम कोर्ट में बढ़ाई जाएगी जजों की संख्या, विधेयक को संसद से मिली मंजूरी

सुप्रीम कोर्ट का फैसला- चाहे पद खाली रह जाएं, पूरी मेरिट नहीं तो भर्ती नहीं

अयोध्या भूमि विवाद : 33 दिनों में फैसला सुना सकता है सुप्रीम कोर्ट !

उन्नाव दुष्कर्म कांड : देश में जो हो रहा है परेशान करने वाला है : सुप्रीम कोर्ट

राजा सिर्फ नाम के,यह ऐसी ''गद्दी'’ है जिसका न कोई साम्राज्य है न प्रजा : कोर्ट

मध्यप्रदेश में 5 साल की बच्ची से दुष्कर्म और हत्या के दोषी को फांसी की सजा

अदालत ने माना, नाबालिग की सहमति से संबंध बनाना भी अपराध ही है

मप्र की जेलों में बंदियों का नियमित रूप से मेडिकल चेकअप किया जाए: हाईकोर्ट

चुनाव याचिका में बदनावर विधायक दत्तीगांव को इंदौर हाईकोर्ट का नोटिस

देश में डॉक्टरों, जजों, सांसदों, पानी की कमी, हम क्या-क्या देखें?: सुप्रीम कोर्ट

आपसी सहमति से बनाए संबंध दुष्कर्म की श्रेणी में नहीं : हाई कोर्ट

फ्लोर टेस्ट के लिए दो निर्दलीय विधायकों ने खटखटाया सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा

घोषित रिक्तियों का 20 फीसदी महिलाओं के लिए आरक्षित होगा: हाईकोर्ट

भ्रष्टाचार के आरोप में अतिरिक्त मुख्य न्यायिक न्यायाधीश अनुराधा बर्खास्त

उच्च न्यायालय ने केंद्र से पूछा- क्या शादीशुदा लोगों में कम बुद्धि होती है ?

मुख्यमंत्री योगी पर हत्या का केस : स्पेशल एमपी एमएलए कोर्ट से केस खारिज

TET प्रमाण पत्र की वैधता का मामला : SC ने UP HC का फैसला किया रद्द

अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायालय सिरमौर में 44,30 ,512 रु का अवार्ड पारित

दूसरी पत्नी की संतान भी अनुकंपा नियुक्ति की हकदार : छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट

राजस्व न्यायालयों व अन्य विभागों के 2663 प्रकरण निराकृत, न्यायालयों में लंबित 367 प्रकरणों का निराकरण

voice news
हमारे रिपोर्टर  
 
 
View All हमारे रिपोर्टर
पंचांग-पुराण   
''नम: शिवाय'' शिव पंचाक्षरी मंत्र के जाप से हो जाता है असाध्य रोगों का नाश
बकरीद के चांद के हुए दीदार, 12 अगस्त को मनेगी ईद उल अजहा
भगवान शिव के मंदिर में हुआ चमत्कार, नंदी और गणेश की प्रतिमा पीने लगी दूध
बहुत झूठ बोलते हैं इन तीन राशि के जातक,ऐसे लोगों से ना करें दोस्ती
श्रावण का पहला सोमवार : श्रद्धालुओं के लिए डेढ़ घंटे पहले जागे महाकाल
live tv
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
 
पंचांग-पुराण   
राशिफल अंक राशि
शुभ पंचांग कुम्भ [ महाकुम्भ ]
आस्था प्रवचन
हस्तरेखा वास्तु
रत्न फेंग शुई
कुंडली विशेष दिवस
सुविचार व्रत -उपवास
प्रेरक प्रसंग
 
लाइव अपडेट  

लाइव हिंदुस्तान समाचार

[ न्यूज़ पोर्टल & न्यूज़ एप ]
फेसबुक,ट्वीटर , गूगल प्लस , लिंक्डइन , इंस्टाग्राम सहित अन्य शोसल प्लेटफार्म से जुड़ने [ लाइव हिंदुस्तान समाचार ] [ livehindustansamachar ] की साइट से या पेज को फॉलो कर करके जुड़ सकते है |  
अधिक जानकारी के लिए संपर्क करे : 9425330281,9893112422

 
समाचार चैनल  
स्थानीय राजनीति
खेल स्वास्थ्य
बिज़नेस अपराध
जीवन शैली शिक्षा
स्ट्रिंग धरोहर
प्रदर्शन शासन
सम्पादकीय अंतर्राष्ट्रीय
सोशल मीडिया कैरियर
मनोरंजन न्यायालय
घटना अनुसंधान
ब्लॉग पुरस्कार
आयोग निर्वाचन
कार्यक्रम टेक्नोलॉजी
संगठन मौसम
रिपोर्ट भष्ट्राचार
कृषि E-PAPER
कॉन्फ्रेंस विज्ञापन
सदन योजना
प्रशासन लाइव हिंदुस्तान समाचार
 
Submit Your News
 
 
 | होम  | कैरियर  | टेक्नोलॉजी  |  कृषि  | शासन  | ब्लॉग  | प्रशासन  | न्यायालय  | आयोग  | E-PAPER  | निर्वाचन  | बिज़नेस  | अनुसंधान  | अपराध  | सदन  | मौसम  | विज्ञापन  | घटना  | धरोहर  | अंतर्राष्ट्रीय  | सोशल मीडिया  | स्ट्रिंग  | खेल  | राजनीति  | कार्यक्रम  | रिपोर्ट  | सम्पादकीय  | योजना  | शिक्षा  | प्रदर्शन  | संगठन  | स्थानीय  | भष्ट्राचार  | कॉन्फ्रेंस  | मनोरंजन  | लाइव हिंदुस्तान समाचार  | पुरस्कार  | जीवन शैली  | स्वास्थ्य  | अंडमान एवं निकोबार  | हरियाणा  | असम  | मध्य प्रदेश  | अरुणाचल प्रदेश  | सिक्किम  | बिहार  | जम्मू और कश्मीर  | लक्ष्यदीप  | तेलंगाना  | पांडिचेरी  | गुजरात  | उड़ीसा  | मणिपुर  | तमिलनाडु  | पंजाब  | नगालैंड  | छत्तीसगढ़  | उत्तर प्रदेश  | आंध्र प्रदेश  | कर्नाटक  | मेघालय  | उत्तरांचल  | दादरा और नगर हवेली  | गोवा  | हिमाचल प्रदेश  | दिल्ली  | पश्चिम बंगाल  | मिजोरम  | झारखंड  | राजस्थान  | त्रिपुरा  | चंडीगढ़  | महाराष्ट्र  | केरल  | दमन और दीव  | नियम एवं शर्तें  | गोपनीयता नीति  | विज्ञापन हमारे साथ  | हमसे संपर्क करें
 
livehindustansamachar.com Copyrights 2016-2017. All rights reserved. Design & Development By MakSoft
 
Hit Counter