Friday 29th of May 2020
खोज

 
livehindustansamachar.com
समाचार विवरण  
 किसी मित्र को मेल पन्ना छापो   साझा यह समाचार मूल्यांकन करें      
Save This Listing     Stumble It          
 कोरोना : दुनिया में लगभग 5,00,000 लोग संक्रमित ,23,000 से ज्यादा की मौत (Fri, Mar 27th 2020 / 22:35:31)

 


लाइव हिंदुस्तान समाचार
कोरोना वायरस अब तक पूरी दुनिया में लगभग 5,00,000 लोगों को संक्रमित कर चुका है। वहीं इसके कारण 23,000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। भारत में भी संक्रमितों की संख्या 700 के पार पहुंच गई है। चीन अब इस वायरस के खिलाफ दुनिया से युद्धस्तर पर लड़ाई करने की अपील कर रहा है। जबकि यह बीमारी सबसे पहले उसके शहर वुहान में शुरू हुई और इसने धीर-धीरे पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले लिया। इस वायरस की वजह से कई देशों की अर्थव्यस्था गिर गई है।
हालांकि सच्चाई ये है कि इस संख्या को समय रहते कम किया जा सकता था। यदि चीन ज्यादा पारदर्शी होता और दुनिया को इसके बारे में चेतावनी देता तो इसका इतना फैलाव नहीं हो पाता। यह वायरस सीवीयर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम (सार्स) के संक्रमण की तरह है। अमेरिकन मैग्जीन नेशनल रिव्यू में प्रकाशित हुई एक रिपोर्ट के अनुसार यह बीमारी पिछले साल चीन के हुबेई प्रांत के सीफूड मार्केट से शुरू हुई थी।
कोरोना वायरस जानवर की एक नस्ल से मनुष्य में आया और अब घातक बीमारी बन चुका है। सबसे पहले इसकी पुष्टि एक दिसंबर को वुहान के हुबेई प्रांत में एक मरीज के अंदर हुई थी। पांच दिन बाद उस बीमार व्यक्ति की कभी बाजार न जाने वाली 53 साल की पत्नी को भी न्यूमोनिया हो गया। यह इस बीमारी का आम लक्षण है और उन्हें अस्पताल में भर्ती करके आइसोलेशन वार्ड में रखा गया।
इसके बाद दिसंबर के अगले हफ्ते वुहान के डॉक्टरों के सामने नए मामले आए जिसने इशारा किया कि वायरस एक इंसान से दूसरे में फैल रहा है। 25 दिसंबर को चीन के दो अस्पतालों के मेडिकल स्टाफ इस वायरस से संक्रमित हो गए और उन्हें क्वारांटाइन (एकांतवास) किया गया। दिसंबर के आखिर में वुहान के अस्पतालों में मामलों में अप्रत्याशित वृद्धि होने लगी।
व्हिसलब्लोअर डॉक्टर ली वेनलियांग ने डॉक्टरों के एक समूह को एक बीमारी के संभावित प्रकोप के बारे में चेतावनी दी, जो 'सार्स' जैसा था। उन्होंने उनसे अनुरोध किया कि वे संक्रमण के खिलाफ सुरक्षात्मक उपाय करें। हालांकि 31 दिसंबर को वुहान नगर स्वास्थ्य आयोग ने कहा कि उन्हें अपनी जांच में मनुष्य से मनुष्य में होने वाला प्रसार और किसी मेडिकल स्टाफ के संक्रमण की जानकारी नहीं मिली है।
चीन ने डॉक्टर ली विनलियांग को जारी किया समन
डॉक्टरों के मामलों पर गौर करने के तीन हफ्ते बाद चीन ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) से संपर्क किया। जनवरी की शुरुआत में वुहान पब्लिक सिक्योरिटी ब्यूरो द्वारा ली वेनलियांग को समन जारी किया गया जिसमें डॉक्टर पर 'अफवाह फैलाने' का आरोप लगाया गया। तीन जनवरी को डॉक्टर ली ने एक पुलिस स्टेशन में अपने 'अपराध' को स्वीकार करते हुए एक बयान पर हस्ताक्षर किए और आगे 'गैरकानूनी काम' न करने का वादा किया।
चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य विभाग ने संस्थानों को आदेश जारी किए कि वह इस अज्ञात बीमारी से संबंधित कोई जानकारी न छापे। इसी दिन हुबेई प्रांतीय स्वास्थ्य आयोग ने नई बीमारी से संबंधित वुहान से नमूनों के परीक्षण को रोकने का आदेश दिया और सभी मौजूदा नमूनों को नष्ट कर दिया। वुहान नगर स्वास्थ्य आयोग ने एक और बयान जारी किया, जिसमें कहा गया कि प्रारंभिक जांच में 'मानव-से-मानव संक्रमण का कोई स्पष्ट सबूत नहीं मिला और कोई मेडिकल स्टाफ संक्रमित नहीं है।'
छह जनवरी को न्यूयॉर्क टाइम्स में छपी रिपोर्ट के अनुसार 59 लोग इस न्यूमोनिया जैसी बीमारी से संक्रमित पाए गए। इसी दिन चीनी रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र ने स्तर एक पर ट्रेवल वॉच जारी किया। यात्रियों को वुहान में 'जीवित या मृत जानवरों, पशु बाजारों और बीमार लोगों' के संपर्क से बचने की सलाह दी गई। आठ जनवरी को चीनी चिकित्सा अधिकारियों ने वायरस की पहचान करने का दावा किया है, उन्होंने अपनी बात दोहराते हुए कहा कि उन्हें अभी भी 'मानव-से-मानव संक्रमण का कोई स्पष्ट प्रमाण नहीं मिला है।'
11 जनवरी को चीन ने वायरस के कारण पहली मौत की घोषणा की। मृतक 61 साल के व्यक्ति थे जो सीफूड मार्केट गए थे। इसी दिन वुहान शहर स्वास्थ्य आयोग ने सवाल और जवाब की एक शीट जारी करते हुए जोर दिया कि वुहान में अस्पष्टीकृत वायरल निमोनिया के अधिकांश मामलों में दक्षिण चीन के सीफूड मार्केट के संपर्क में आने का पता चला है और 'मानव-से-मानव संक्रमण का कोई स्पष्ट प्रमाण नहीं मिला है।'
चीन मानव-से-मानव संक्रमण की बात को झुठलाता रहा
12 जनवरी को ली वेनलियांग अस्पताल में भर्ती हो गए। एक मरीज का इलाज करने के बाद उन्हें खांसी हो गई और बुखार आने लगा। बाद में उनकी हालत बहुत खराब हो गई और उन्हें इंटेसिव केयर यूनिट में भर्ती करना पड़ा और ऑक्सीजन सपोर्ट दिया गया। 13 जनवरी को पहली बार नोवल कोरोना वायरस का पहला मामला चीन के बाहर सामने आया। यह थाईलैंड में रहने वाली 61 साल की चीनी महिला थी जो वुहान की यात्रा कर चुकी थी।
हालांकि थाईलैंड के जनस्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि महिला वुहान के सीफूड मार्केट नहीं गई थी और उसे पांच जनवरी को बुखार आया था। महिला ने वुहान में एक अलग, छोटे से बाजार का दौरा किया था, जिसमें जीवित और ताजा कत्ल किए गए जानवर बेचे जाते हैं। 14 जनवरी को डब्ल्यूएचओ ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि चीनी अधिकारियों द्वारा की गई प्रारंभिक जांच में वुहान में पहचाने गए नोवल कोरोनवायरस (2019-एनसीओवी) के मानव-से-मानव संक्रमण का कोई स्पष्ट प्रमाण नहीं मिला है।
15 जनवरी को जापान में कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया और स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि मरीज ने चीन के किसी भी सीफूड मार्केट का दौरा नहीं किया है। वुहान नगर स्वास्थ्य आयोग ने एक बयान में कहा कि 'सीमित मानव-से-मानव संक्रमण' की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता। नेशनल रिव्यू के लेख के अनुसार, इस तथ्य के बावजूद कि वुहान के डॉक्टरों को पता था कि वायरस 'संक्रामक' है, शहर के अधिकारियों ने 40,000 परिवारों को नववर्ष भोज में घर में बनाया हुआ खाना खाने के लिए इकट्ठा होने की इजाजत दी।
19 जनवरी को चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने घोषणा की कि वायरस रोकने और नियंत्रण करने योग्य है। इसके एक दिन बाद वायरस की जांच कर रहे चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग की टीम के प्रमुख ने पुष्टि की कि चीन के गुआंगडोंग प्रांत में संक्रमण के दो मामले 'मानव-से-मानव संक्रमण से हुए हैं और चिकित्सा कर्मचारी संक्रमित हैं।' 21 जनवरी को चीनी रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र ने अमेरिका में कोरोना वायरस के पहले मामले की घोषणा की। मरीज छह दिन पहले ही चीन वापस लौटा था।
चीन ने वुहान को किया लॉकडाउन
22 जनवरी को डब्ल्यूएचओ के एक प्रतिनिधिमंडल ने वुहान के एक क्षेत्र दौरा किया और निष्कर्ष निकाला, 'राष्ट्रीय स्तर पर नए परीक्षण किट के फैलाव से पता चलता है कि वुहान में मानव-से-मानव संक्रमण हो रहा है।' पहला मामला सामने आने के दो महीने बाद चीनी अधिकारियों ने पहला कदम उठाते हुए वुहान को लॉकडाउन (शहरबंदी) करने की घोषणा की। इस समय तक चीनी नागरिकों की एक बहुत बड़ी संख्या अनजान वाहक के रूप में विदेश यात्रा कर चुकी थी।
एक फरवरी को वी विनलियांग कोरोना पॉजिटिव पाए गए और इसके छह दिन बाद उनकी मौत हो गई। आज यह वायरस अंटार्कटिका के अलावा दुनिया के 170 से ज्यादा देशों में फैल चुका है। एशिया को अपनी चपेट में लेने के बाद यह वायरस यूरोप पहुंच गया है। यूरोप में 250,000 से ऊपर मामले सामने आए हैं। जिसमें से आधे स्पेन और इटली से हैं। स्पेन में 24 घंटे में 655 नए मामले आए है जबकि इटली के मरने वालों की संख्या बढ़कर 8,215 हो गई है।

livehindustansamachar.com
 
समान समाचार  
livehindustansamachar.com
     
कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के लिए 14 दिन का आइसोलेशन काफी नहीं

नई दिल्ली ब्यूरो
दुनियाभर में कोरोना वायरस की वजह से कोहराम मचा हुआ है। इस महामारी की वजह से विश्व में मरने वालों की संख्या 13,000 से पार हो गई है, जबकि तीन लाख से ज्यादा लोग इससे संक्रमित हैं। हर क्षेत्र में इस महामारी का गहरा

read more..

कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के लिए 14 दिन का आइसोलेशन काफी नहीं

देश में सभी राज्यों में आईपीएस अफसरों की कमी, रिक्त पड़े हैं 958 पद !

शादीशुदा भारतीय अपने जीवनसाथी को देते हैं धोखा, महिलाएं पुरुषों से आगे

सतत विकास में केरल अव्वल ,बिहार-झारखंड-अरुणाचल फिस्सडी:नीति आयोग

सोशल मीडिया पर ही लड़ा जाएगा लोकसभा चुनाव, आंकड़े करते हैं प्रमाणित

रिपोर्ट : रोजाना 70 मिनट वीडियो देखता है एक भारतीय दर्शक

ज्यादा धार्मिक होते हैं हफ्ते में ज्यादा पोर्न देखने वाले : रिसर्च

हिमालय के साढ़े छह सौ ग्लेशियर पर संकट , 800 करोड़ टन पानी का नुकसान

रिपोर्ट में खुलासा, 40 फीसदी ई-मेल भी नहीं देखते कर्मचारी !

राजधानी में महफूज नहीं नारी, रोजाना छह दुष्कर्म और नौ से ज्यादा छेड़छाड़ !

2050 तक बाढ़ से डूब सकते हैं मुंबई और कोलकाता, नए शोध में दावा

देश भर में 91% शहरी प्रवासी मतदाता सूची में रजिस्टर्ड नहीं !

Global Warming के खतरे का सबसे ज्यादा सामना कर रहे समुद्री जीव !

देश में माओवादी हिंसाओं में पिछले नौ वर्षों में गई 3,749 लोगों की जान

भारत में 16 करोड़ हैं शराबी, गांजे-भांग का भी है बड़ा मार्केट : स्टडी

ई-सिगरेट, ई-निकोटिन हुक्का पर पाबंदी के लिए अध्यादेश ला सकती है सरकार

450 भारतीयों पर होना चाहिए एक पुलिसकर्मी, असल आंकड़ा है निराशाजनक

जलसंकट:189 देशों में भारत 13वें पायदान पर, डे जीरो की कगार पर 17 देश

ओडिशा में रोजाना 302 के 4 ,रेप के दर्ज हुए 2018 में औसतन 7 मामले

रिपोर्ट : देश के एक चौथाई दिव्यांग बच्चो को क ख ग का अक्षर ज्ञान नहीं !

बिलासपुर क्षेत्र में जलसंकट, पानी नहीं तो गांव में बहू भी नहीं आ रही

सामान्य और मॉडल तालाब-पोखर सूखे, गर्मी में पशु-पक्षी बेहाल

तकनीकी क्षमता उच्च होती तो पाकिस्तान को ज्यादा नुकसान पहुंचाते : वायुसेना

सर्वे : 62 फीसदी लोग वोटर कार्ड को चाहते हैं आधार से लिंक करना !

भारत की आबादी 1.36 अरब हुई, 9 साल में 1.2 फीसदी की दर से बढ़ी :UN

विश्व जल दिवस : दुनिया में 400 करोड़ लोगों को नहीं मिल रहा स्वच्छ पानी

भारत में 16 करोड़ हैं शराबी, गांजे-भांग का भी है बड़ा मार्केट: स्टडी

नौ साल में 42 प्रतिशत गिरा भारत को रूसी हथियारों का निर्यात

मध्य प्रदेश में प्रत्येक व्यक्ति लगभग 23 हजार रुपए का कर्जदार !

गोमती नदी को संवारने में करोड़ों का गोलमाल, सीएजी की रिपोर्ट में खुलासा

voice news
हमारे रिपोर्टर  
 
 
View All हमारे रिपोर्टर
पंचांग-पुराण   
आमलकी एकादशी : व्रत से मिलता है सुख और होती है मोक्ष की प्राप्ति
HOLI 2020: गर्लफ्रेंड या पत्नी का पसंदीदा कलर बताता है उनकी खूबियां
HOLI 2020: हर रंग कुछ कहता है, जानिए रंगों का जीवन में कैसा है महत्व
HOLI 2020: होलिका दहन की लपटों से मिलते हैं भविष्य के संकेत !
महर्षि वेदव्यास और अप्सरा घृताची से हुआ शुक्राचार्य का जन्म
live tv
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
 
पंचांग-पुराण   
राशिफल अंक राशि
शुभ पंचांग कुम्भ [ महाकुम्भ ]
आस्था प्रवचन
हस्तरेखा वास्तु
रत्न फेंग शुई
कुंडली विशेष दिवस
सुविचार व्रत -उपवास
प्रेरक प्रसंग
 
लाइव अपडेट  
लाइव हिंदुस्तान समाचार
 
समाचार चैनल  
स्थानीय खेल
स्वास्थ्य बिज़नेस
अपराध जीवन शैली
शिक्षा सम्पादकीय
अंतर्राष्ट्रीय सोशल मीडिया
जॉब मनोरंजन
न्यायालय आपदा
अनुसंधान निर्वाचन
कार्यक्रम टेक्नोलॉजी
रिपोर्ट कॉन्फ्रेंस
सदन प्रशासन
 
Submit Your News
 
 
 | होम  | कार्यक्रम  | जॉब  | स्थानीय  | आपदा  | प्रशासन  | टेक्नोलॉजी  | स्वास्थ्य  | न्यायालय  | सदन  | रिपोर्ट  | निर्वाचन  | अनुसंधान  | शिक्षा  | अंतर्राष्ट्रीय  | बिज़नेस  | अपराध  | जीवन शैली  | कॉन्फ्रेंस  | सोशल मीडिया  | मनोरंजन  | खेल  | सम्पादकीय  | तेलंगाना  | त्रिपुरा  | मेघालय  | कर्नाटक  | पांडिचेरी  | उत्तरांचल  | हरियाणा  | अंडमान एवं निकोबार  | दिल्ली  | उड़ीसा  | गुजरात  | मध्य प्रदेश  | अरुणाचल प्रदेश  | असम  | पश्चिम बंगाल  | उत्तर प्रदेश  | नगालैंड  | छत्तीसगढ़  | दमन और दीव  | मणिपुर  | केरल  | लक्ष्यदीप  | तमिलनाडु  | चंडीगढ़  | पंजाब  | सिक्किम  | मिजोरम  | दादरा और नगर हवेली  | आंध्र प्रदेश  | गोवा  | हिमाचल प्रदेश  | महाराष्ट्र  | जम्मू और कश्मीर  | राजस्थान  | बिहार  | झारखंड  | नियम एवं शर्तें  | गोपनीयता नीति  | विज्ञापन हमारे साथ  | हमसे संपर्क करें
 
livehindustansamachar.com Copyrights 2016-2017. All rights reserved. Design & Development By MakSoft
 
Hit Counter