Friday 14th of August 2020
खोज

 
livehindustansamachar.com
समाचार विवरण  
 किसी मित्र को मेल पन्ना छापो   साझा यह समाचार मूल्यांकन करें      
Save This Listing     Stumble It          
 सीवेज के गंदे पानी में शोधकर्ताओं को मिले सार्स-कोव-2 वायरस के कण (Tue, Jun 9th 2020 / 16:33:41)

 


अहमदाबाद ब्यूरो
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान गांधीनगर के शोधकर्ताओं ने पाया है कि सीवेज के गंदे पानी में भी कोरोना के गैर संक्रमित जीन पाए जा रहे हैं। अहमदाबाद के बाहरी इलाकों से एकत्र किए सीवेज के गंदे पानी के सैंपल से शोधकर्ताओं ने यह जांच की है। कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए शोधकर्ताओं ने गंदे पानी पर आधारिक निगरानी पर जोर दिया है।
शोधकर्ताओं का कहना है कि इलाज से पहले हॉटस्पॉट की पहचान करना बेहद जरूरी है। अभी तक नीदरलैंड, ऑस्ट्रेलिया, फ्रांस और अमेरिका ने गंदे पानी में सार्स-कोव-2 वायरस के कण देखे हैं। अप्रैल में आईआईटी गांधीनगर 51 प्रीमियर विश्वविद्यालयों और रिसर्च इंस्टीट्यूट के साथ एक वैश्विक संघ से जुड़ा था।
इस संघ का काम गंदे पानी की निगरानी करना था ताकि भविष्य में कोविड-19 को लेकर दुनिया को चेतावनी दी जा सके। आईआईटी गांधीनगर के प्रोफेसर मनीष कुमार ने कहा कि वायरस की उपस्थिति पता करने के लिए गंदा पानी एक महत्वपूर्ण स्रोत है। उत्सर्जन के दौरान वायरस सिर्फ सिम्टोमैटिक ही नहीं एसिम्टोमैटिक मरीजों के शरीर को भी छोड़ता है।
अध्ययन में पाया गया है कि गंदे पानी में कोरोना वायरस संक्रमण नहीं फैलाता है। पानी में तापमान एक बड़ी भूमिका निभाता है, जिसकी वजह से वायरस के जीवन पर असर पड़ता है। विश्लेषण के लिए गुजरात प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने आईआईटी गांधीनगर को आठ मई से 27 मई तक गंदे पानी के सैंपल इकट्ठे करने में मदद की।
हर 100 मिलीलीटर सैंपल को कई समय तक केंद्रित किया ताकि सैंपल में से जेनेटिक मैटेरियल RTPCR को अलग कर दिया जाए। सैंपल में से आरएनए को अलग निकाला गया, जिसके बाद पता चला कि सभी सैंपल में कोरोना वायरस के तीन जीन मिले, जिसमें ओआरएफ1एबी, एस और एन जीन शामिल हैं।
टीम में मौजूद अरबिंद कुमार पटेल ने पाया कि आरटीपीसीओर के परिणाम की वजह से अहमदाबाद के सरकारी अस्पताल में कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ रही है। गंदे पानी पर आधारिक महामारी विज्ञान ज्यादातर विकसित देशों में की जाती है। मनीष कुमार ने कहा कि देश में जनसंख्या ज्यादा होने की वजह से सभी लोगों का कोरोना टेस्ट नहीं हो सकता है।
कोरोना वायरस लंबे समय के लिए रहने वाला है, इसके लिए जरूरी है कि सरकार महामारी को समझने और वृत्त को नीचे लाने के लिए गंदे पानी पर आधारित निगरानी पर जोर दे। शोधकर्ताओं का कहना है कि मुंबई और दिल्ली जैसे शहरों में गंदे पानी की निगरानी करने से सरकार को कोरोना के चरम को रोकने में मदद मिल सकेगी।
सीएसआईआर-राष्ट्रीय पर्यावरण अभियंत्रिकी और रिसर्च संस्थान के निदेशक राकेश कुमार का कहना है कि भारत में गंदे पानी पर आधारित निगरानी करना कठिन काम है। इस प्रणाली को अपनाने के लिए बहुत ज्यादा सैंपलिंग करनी होगी। भारत में पानी की मात्रा को देखते हुए यह काम मुश्किल हो सकता है।
जीबीआरसी के निदेशक चैतन्य जी जोशी का कहना है कि गंदे पानी के सैंपल से निकाले गए सैंपल में जीन का विश्लेषण करना मुश्किल काम है। हालांकि इस अध्ययन में कोरोना वायरस के विस्तार को समझने के लिए मदद मिल सकती है।

livehindustansamachar.com
 
समान समाचार  
livehindustansamachar.com
     
भारत के पहले मानव अतंरिक्ष मिशन के लिए रूस में पूरा हुआ परीक्षण

रीता अश्वनी तिवारी
भारत के पहले मानवयुक्त अंतरिक्ष मिशन गगनयान के लिए चुने गए चार अंतरिक्ष यात्रियों ने रूस के अंतरिक्ष संगठन रोस्कोस्मोस की एक सहायक कंपनी ग्लेवकोस्मोस में प्रशिक्षण पूरा कर लिया है। ए

read more..

भारत के पहले मानव अतंरिक्ष मिशन के लिए रूस में पूरा हुआ परीक्षण

ऑक्सफोर्ड वैक्सीन के मानव परीक्षण का ट्रायल,भारत में 5 जगहों का चुनाव

सूर्योदय से पहले 5 ग्रहों को 45 मिनट तक आंखों से देखा जा सकेगा !

धरती से नजर आएगा शुक्र ग्रह, बल्ब की तरह बिखेरेगा रोशनी

कोवाक्सिन कोविड वैक्सीन 15 अगस्त तक लॉन्च कर सकता है IRMR

कोरोना को लेकर नए शोध का दावा, 43 % जनसंख्या पर हर्ड इम्यूनिटी संभव

CSIR -CMERI वैज्ञानिकों ने बनाया स्वदेशी मैकेनिकल वेंटिलेटर

DRDO ने बनाई कोरोना की दवा, क्लीनिकल ट्रायल की मिली अनुमति

हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन के परीक्षण में अस्थायी रोक ,WHO के खिलाफ भारत में विरोध ,आईसीएमआर के बाद सीएसआईआर ने WHO को लिखा पत्र

Kovid-19 वायरस की माइक्रोस्कोपी तस्वीर भारतीय वैज्ञानिकों ने की खोज

कोरोना वायरस से निपटने के लिए भारतीय वैज्ञानिकों ने झोंकी ताकत

चंद्रयान-2 के सफल प्रक्षेपण के बाद ‘'सूर्य मिशन'’ की योजना पर ISRO

चंद्रग्रहण: 149 साल बाद बना दुर्लभ संयोग, दुनिया भर में दिखा रोमांच

15 जुलाई को पहली बार चांद के दक्षिणी ध्रुव पर उतरेगा चंद्रयान- 2

डीआरडीओ ने आकाश-1एस एयर डिफेंस मिसाइल का किया सफल परीक्षण

मंगल के बाद अब शुक्र की तैयारी में इसरो, अगले 10 साल में लॉन्च होंगे सात वैज्ञानिक मिशन

केरल में खुलेगा देश का पहला ट्रांसजेंडर रिसर्च सेंटर, केरल और गोवा भी सहमत

13 राज्यों में होंगी साइबर फॉरेंसिक लैबोरेट्री और डीएनए जांच की सुविधा

भारत ने किया लंबी मारक क्षमता वाले दो रॉकेट का सफल परीक्षण

रूस से परमाणु संचालित पनडुब्बी लेने जा रहा है भारत,3 अरब डॉलर में सौदा

दुनिया के बेहतरीन लड़ाकू विमानों में शुमार राफेल विमान !

वैज्ञानिकों को मंगल की सतह पर मिले प्राचीन झीलों के भूगर्भीय साक्ष्य

जापान जाएगी केले के छिलके से sanitary pad बनाने वाली होनहार छात्रा रीना

जमीन से हवा में मार करने वाली ''एलआरएसएएम’' मिसाइल का सफल प्रयोग

फॉर द स्टडी ऑफ कफ : खांसी को ठीक करने के लिए सिरप से अच्छी है चॉकलेट

2021 तक गगनयान को अंतरिक्ष में भेजने का लक्ष्य : ISRO चीफ

पोटेटो रिसर्च इंस्टीट्यूट ने बनाया आलू का दलिया, बिस्किट, सूजी का हलवा !

तीन भारतीय करेंगे अंतरिक्ष यात्रा, परियोजना के लिए 10 हजार करोड़ मंजूर

ओडिशा तट से बैलिस्टिक मिसाइल अग्नि- 4 का सफल परीक्षण

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ने लांच किया 39 वां जीसैट-7ए उपग्रह

voice news
हमारे रिपोर्टर  
 
 
View All हमारे रिपोर्टर
पंचांग-पुराण   
हनुमान होते तो नहीं होता श्रीराम का स्वर्गारोहण, इसलिए किया था ऐसा उपाय
जानिए ,रक्षाबंधन की तिथि, वार, शुभ मुहूर्त, पूजा विधि सहित कथा !
व्यक्ति की राशि पर भी निर्भर करता है तो उसे कैसे जीवनसाथी मिलेगा
मोक्षदायिनी और पुण्यफल देने वाली देवशयनी एकादशी की पूजाविधि और शुभ मुहूर्त
कांवड़ यात्रा की अनुमति देने से झारखंड सरकार ने किया इन्कार
live tv
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
 
पंचांग-पुराण   
राशिफल अंक राशि
शुभ पंचांग कुम्भ [ महाकुम्भ ]
आस्था प्रवचन
हस्तरेखा वास्तु
रत्न फेंग शुई
कुंडली विशेष दिवस
सुविचार व्रत -उपवास
प्रेरक प्रसंग
 
लाइव अपडेट  
लाइव हिंदुस्तान समाचार फेसबुक ,ट्वविटर ,इंस्ट्राग्राम , लिंक्डइन से जुड़ने के लिए फॉलो करे या विजिट करे : www.livehindustansamachar.com
 
समाचार चैनल  
स्थानीय राजनीति
खेल COVID-19
बिज़नेस अपराध
जीवन-शैली शिक्षा
राष्ट्रीय सम्पादकीय
अंतर्राष्ट्रीय सोशल मीडिया
कैरियर मनोरंजन
न्यायालय आपदा
अनुसंधान ब्लॉग
निर्वाचन मौसम
भष्ट्राचार कृषि
HEALTH शासन
योजना प्रशासन
कविता/कहानी लाइव हिंदुस्तान समाचार [विशेष]
 
Submit Your News
 
 
 | होम  | निर्वाचन  | जीवन-शैली  | योजना  | कैरियर  | अनुसंधान  | मनोरंजन  |  कृषि  | स्थानीय  | सम्पादकीय  | आपदा  | मौसम  | कविता/कहानी  | राजनीति  | राष्ट्रीय  | अपराध  | COVID-19  | प्रशासन  | HEALTH  | लाइव हिंदुस्तान समाचार [विशेष]  | खेल  | शिक्षा  | सोशल मीडिया  | न्यायालय  | बिज़नेस  | भष्ट्राचार  | ब्लॉग  | अंतर्राष्ट्रीय  | शासन  | गुजरात  | उत्तरांचल  | हिमाचल प्रदेश  | गोवा  | पश्चिम बंगाल  | दिल्ली  | तमिलनाडु  | झारखंड  | आंध्र प्रदेश  | लद्दाख  | दादरा और नगर हवेली  | बिहार  | असम  | पांडिचेरी  | अंडमान एवं निकोबार  | उड़ीसा  | उत्तर प्रदेश  | मध्य प्रदेश  | मेघालय  | अरुणाचल प्रदेश  | मणिपुर  | सिक्किम  | पंजाब  | चंडीगढ़  | दमन और दीव  | तेलंगाना  | त्रिपुरा  | मिजोरम  | छत्तीसगढ़  | कर्नाटक  | महाराष्ट्र  | लक्ष्यदीप  | केरल  | हरियाणा  | राजस्थान  | नगालैंड  | जम्मू और कश्मीर  | नियम एवं शर्तें  | गोपनीयता नीति  | विज्ञापन हमारे साथ  | हमसे संपर्क करें
 
livehindustansamachar.com Copyrights 2016-2017. All rights reserved. Design & Development By MakSoft
 
Hit Counter