Tuesday 29th of September 2020
खोज

 
livehindustansamachar.com
समाचार विवरण  
 किसी मित्र को मेल पन्ना छापो   साझा यह समाचार मूल्यांकन करें      
Save This Listing     Stumble It          
 संस्कृति को नहीं समझकर देश का अनादर कर रहे टीवी चैनल : सुप्रीम कोर्ट (Wed, Sep 16th 2020 / 07:39:30)

 


लाइव हिंदुस्तान समाचार
सुप्रीम कोर्ट ने सुदर्शन टीवी के विवादित कार्यक्रम पर रोक से जुड़ी सुनवाई के दौरान टीवी चैनलों की कार्यशैली पर तीखी टिप्पणियां कीं। शीर्ष अदालत ने कहा, भारत अलग-अलग संस्कृतियों का देश है, ऐसा नहीं समझ कर चैनल देश का अनादर कर रहे है। शीर्ष अदालत ने इलेक्ट्रॉनिक मीडिया द्वारा किसी समुदाय विशेष को निशाना बनाए जाने की प्रवृत्ति पर भी चिंता जताई।
जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़, जस्टिस केएम जोसेफ और जस्टिस इंदु मल्होत्रा की पीठ ने कहा, हम सरकार से मीडिया पर कोई गाइडलाइंस थोपने के लिए नहीं कह रहे हैं, क्योंकि यह अनुच्छेद 19(1)(ए) के लिए अभिशाप जैसा होगा। लेकिन क्या मीडिया को खुद ही अपने मानक तय नहीं करने चाहिए। वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये की गई सुनवाई में जस्टिस चंद्रचूड़ ने चैनल की ओर से पेश वरिष्ठ वकील श्याम दीवान से कहा, कार्यक्रम में यह चित्रित करने का कपटपूर्ण प्रयास है कि मुसलमानों का यूपीएससी की परीक्षाओं को पास करना सिविल सेवाओं में घुसपैठ का प्रयास है। इस देश का सर्वोच्च न्यायालय होने के नाते हम आपको यह कहने की अनुमति नहीं दे सकते। हम इसे बर्दाश्त नहीं कर सकते। उन्होंने कहा, कोई भी यह नहीं कह सकता कि पत्रकारों को कुछ भी कहने की पूर्ण स्वतंत्रता है। उन्होंने कहा, आपके मुवक्किल को सावधानी के साथ अपने अधिकारों का प्रयोग करने की आवश्यकता है।
दीवान की तरफ से ‘फ्री स्पीच’ का दावा करने पर पीठ ने कहा, यह फ्री स्पीच का मुद्दा नहीं है। जब आप कहते हैं कि जामिया के छात्र सिविल सेवाओं में घुसपैठ करने की साजिश का हिस्सा हैं, तो यह स्वीकार्य नहीं है। आप एक समुदाय को लक्षित नहीं कर सकते हैं और उन्हें एक विशेष तरीके से ब्रांड नहीं कर सकते हैं। यह एक समुदाय को बदनाम करने का दुर्भावनापूर्ण प्रयास है।
इससे पहले शीर्ष अदालत ने 28 अगस्त को कार्यक्रम के प्रसारण पर रोक लगाने की बजाय इस पर सुनवाई की आवश्यकता जताई थी। सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार, प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया, न्यूज ब्रॉडकास्टर्स एसोसिएशन और सुदर्शन न्यूज से एडवोकेट फिरोज इकबाल खान की याचिका पर जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया था।

  • स्वतंत्र प्रेस के नाम पर अदालत से नहीं बच सकते

जस्टिस चंद्रचूड़ ने कहा, किसी एक समुदाय को बदनाम करने के प्रयास को अदालत द्वारा बहुत ही अपमान के साथ देखा जाना चाहिए, क्योंकि अदालत सांविधानिक अधिकारों की संरक्षक होती है। पीठ ने कहा, ऐसे कार्यक्रम जो एक विशेष समुदाय को गलत ढंग से दिखाने की प्रवृत्ति रखते हैं, वे सिर्फ अभिव्यक्ति के अधिकार और स्वतंत्र प्रेस के अधिकार का दावा करके अदालती परीक्षण से बच नहीं सकते। दीवान ने जवाब देने के लिए दो सप्ताह का समय मांगा।

  • कार्यकम में दिख रही तथ्यात्मक गलतियां

याचिकाकर्ताओं की तरफ से पेश एडवोकेट शाहदान फरासत ने विवादित कार्यक्रम की कुछ वीडियो क्लिप अदालत को दिखाई। इन्हें देखने के बाद पीठ ने 17 सितंबर तक कार्यक्रम के प्रसारण पर अंतरिम रोक लगाते हुए कहा, कार्यक्रम में कई तथ्यात्मक गलतियां हैं. यूपीएससी में मुसलमानों की आयु सीमा 35 रखने का, परीक्षा के ज्यादा मौके मिलने का गलत दावा किया गया है। हमें लगता है कि कार्यक्रम के ज़रिए मुसलमानों को निशाना बनाया जा रहा है। पीठ ने सॉलिसिटर जनरल मेहता को भी सरकार से पूछने का निर्देश दिया कि सूचना व प्रसारण मंत्रालय ने 9 सितंबर को किस आधार पर 11 और 14 सितंबर को कार्यक्त्रस्म के प्रसारण की इजाजत दी।

livehindustansamachar.com
 
समान समाचार  
livehindustansamachar.com
     
सुप्रीम कोर्ट पहुंचा कृषि कानून, कानून वापस लेने दाखिल हुई रिट याचिका

लाइव हिंदुस्तान समाचार
देशभर में संसद के दोनों सदनों से पारित और राष्ट्रपति द्वारा हस्ताक्षरित कृषि कानून को लेकर विरोध प्रदर्शन जारी है। कर्नाटक, पंजाब और दिल्ली में जहां विपक्ष और किसान संगठन कानून के खिलाफ प्रदर्शन

read more..

सुप्रीम कोर्ट पहुंचा कृषि कानून, कानून वापस लेने दाखिल हुई रिट याचिका

कोविड-19 की उपचार दरों के संबंध में मध्य प्रदेश हाइकोर्ट ने दिये सख्त निर्देश

सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका,अपराधियों के चुनाव लड़ने पर लगे प्रतिबंध !

कंगना पर राजद्रोह के मुकदमे के लिए कोर्ट में अधिवक्ता ने दिया प्रार्थनापत्र

दुष्कर्म के सरकारी वकील को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने दी अंतरिम जमानत ,उच्चतम न्यायालय ने कहा-हाईकोर्ट का निर्णय हमारे आदेश के खिलाफ !

प्रशासन व जनता दोनों के लिए मास्क पहनना अनिवार्य :इलाहाबाद हाईकोर्ट

केंद्र व राज्य सेक्स वर्करों को राशन-नकदी मुहैया कराये : सुप्रीम कोर्ट

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश होंगे संजय यादव

केंद्र-राज्यों को बच्चों -माताओं को भोजन की व्यवस्था करने SC का नोटिस

हाई कोर्ट की फटकार : आप कितने भी बड़े हों, पर कानून से ऊपर नहीं !

मीडिया समुदाय विशेष को निशाना नहीं बना सकता : उच्चतम न्यायालय

सुप्रीम कोर्ट में केंद्र सरकार ने कहा :प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक से पहले डिजिटल मीडिया में हो फैसला !

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने कहा-सुनवाई बिना आवेदन निरस्त करना अनुचित !

पूर्व केंद्रीय मंत्री पर भ्रष्टाचार का आरोप, CBI कोर्ट ने दिया FIR का आदेश

वेदांता और वीडियोकॉन का अवार्ड जन नीति का उल्लंघन नहीं : सुप्रीम कोर्ट

थानों में सीसीटीवी कैमरों की स्थिति से अवगत कराये राज्य : सुप्रीम कोर्ट

मध्य प्रदेश को निर्बाध ऑक्सीजन सप्लाई करे महाराष्ट्र सरकार : हाईकोर्ट

NGT ने पर्यावरण मंत्रालय और केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से पूछा- क्या प्लास्टिक पेन PWM नियम 2018 के तहत आते हैं ?

पूर्व नौसेना अधिकारी से मारपीट का मामला : शिवसेना कार्यकर्ताओं को मिली जमानत

समलैंगिक विवाह को समाज और मूल्यों में मान्यता नहीं : केंद्र सरकार

अभिव्यक्ति की आजादी दबाने के लिए राजद्रोह कानून का इस्तेमाल: जस्टिस

पति के मौत के बाद मुआवजे का हकदार कौन, पहली पत्नी या दूसरी पत्नी ?

सुप्रीम कोर्ट अवमानना फैसला : प्रशांत भूषण ने दायर की पुनर्विचार याचिका

सरकार और उसके निकाय मुकदमेबाजी में सबसे ऊपर : सुप्रीम कोर्ट

न्यायाधीशों को आलोचना के लिए बनाया जा रहा है सॉफ्ट टारगेट : जस्टिस

महिलाओं की सुरक्षा के लिए कोर्ट भगवान कृष्ण जैसा करें काम: हाईकोर्ट

मुल्लापेरियार बांध मामले की सुनवाई : सीजेआई एसए बोबडे ने खुद को किया अलग

राजनेताओं के खिलाफ देशभर में 4,442 आपराधिक मामले लंबित

जज के खिलाफ यौन शोषण का मामला : मप्र हाईकोर्ट के आदेश पर रोक

प्रशांत भूषण मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले का परीक्षण करेगी बीसीआई !

voice news
हमारे रिपोर्टर  
 
 
View All हमारे रिपोर्टर
पंचांग-पुराण   
श्रद्धालु फिर से कर सकेंगे मां वैष्णो देवी के दर्शन, नियमों के साथ यात्रा की अनुमति
हनुमान होते तो नहीं होता श्रीराम का स्वर्गारोहण, इसलिए किया था ऐसा उपाय
जानिए ,रक्षाबंधन की तिथि, वार, शुभ मुहूर्त, पूजा विधि सहित कथा !
व्यक्ति की राशि पर भी निर्भर करता है तो उसे कैसे जीवनसाथी मिलेगा
मोक्षदायिनी और पुण्यफल देने वाली देवशयनी एकादशी की पूजाविधि और शुभ मुहूर्त
live tv
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
 
पंचांग-पुराण   
राशिफल अंक राशि
शुभ पंचांग कुम्भ [ महाकुम्भ ]
आस्था प्रवचन
हस्तरेखा वास्तु
रत्न फेंग शुई
कुंडली विशेष दिवस
सुविचार व्रत -उपवास
प्रेरक प्रसंग
 
लाइव अपडेट  
लाइव हिंदुस्तान समाचार
 
समाचार चैनल  
LOCAL राजनीति
SPORTS जीवन-शैली
BUSINESS अपराध
कार्यक्रम शिक्षा
EDITORIAL अंतर्राष्ट्रीय
SOCIAL MEDIA कैरियर
INTERTAINMENT आपदा
अनुसंधान ब्लॉग
निर्वाचन टेक्नोलॉजी
न्यायालय कृषि
HEALTH शासन
प्रशासन प्राकृतिक/धरोहर
 
Submit Your News
 
 
 | होम  | राजनीति  | जीवन-शैली  | शासन  | SOCIAL MEDIA  | अनुसंधान  |  कृषि  | अंतर्राष्ट्रीय  | अपराध  | निर्वाचन  | LOCAL  | आपदा  | कार्यक्रम  | प्रशासन  | HEALTH  | न्यायालय  | ब्लॉग  | BUSINESS  | प्राकृतिक/धरोहर  | EDITORIAL  | SPORTS  | INTERTAINMENT  | कैरियर  | शिक्षा  | टेक्नोलॉजी  | मध्य प्रदेश  | महाराष्ट्र  | मिजोरम  | मणिपुर  | गुजरात  | असम  | त्रिपुरा  | राजस्थान  | तेलंगाना  | सिक्किम  | नई दिल्ली  | दादरा और नगर हवेली  | उत्तर प्रदेश  | बिहार  | पंजाब  | लक्ष्यदीप  | नगालैंड  | दिल्ली  | चंडीगढ़  | हिमाचल प्रदेश  | झारखंड  | आंध्र प्रदेश  | अरुणाचल प्रदेश  | तमिलनाडु  | कर्नाटक  | उत्तरांचल  | गोवा  | पश्चिम बंगाल  | मेघालय  | अंडमान एवं निकोबार  | पांडिचेरी  | लद्दाख  | हरियाणा  | उड़ीसा  | छत्तीसगढ़  | दमन और दीव  | केरल  | जम्मू और कश्मीर  | नियम एवं शर्तें  | गोपनीयता नीति  | विज्ञापन हमारे साथ  | हमसे संपर्क करें
 
livehindustansamachar.com Copyrights 2016-2017. All rights reserved. Design & Development By MakSoft
 
Hit Counter