Thursday 23rd of September 2021
खोज

 
livehindustansamachar.com
पंचांग पूरन विवरण  
 Mail to a Friend Print Page   Share This News Rate      
Share This News Save This Listing     Stumble It          
 

  मकर संक्रांति : नौकरी-व्यापार में वृद्धि तथा संतान सुख, मोक्ष की प्राप्ति के लिए करे दान ! (Thu, Jan 14th 2021 / 06:17:36)

लाइव हिंदुस्तान समाचार
शास्त्रों के अनुसार सूर्य के मकर राशि में प्रवेश को मकर संक्रांति के पर्व के रूप में भारत में मनाया जाता है। इसी दिन से सूर्य उत्तरायण होते हैं और इस अवधि को देवताओं का दिन कहा जाता है। इसी तरह से दक्षिणायन को देवताओं की रात्रि कहा गया है। मकर संक्रांति का पर्व जीवन में नए उजाले की शुरुआत करता है। नवीन खुशियों का प्रारम्भ होता है। इंदौर के ज्योतिषाचार्य पंडित गिरीश व्यास बताते हैं कि इसी दिन स्नान, दान, तप, श्राद्ध, हवन तथा अनुष्ठान आदि करने का महत्व है। साथ ही साथ इस दिन कंबल और घी, गुड़, तिल आदि का दान देने का भी महत्व है। कहते हैं कि इस दिन दान देने से सम्पूर्ण मनोकामनाओं की पूर्ति, व्यापार में वृद्धि, संतान सुख एवं मोक्ष की प्राप्ति होती है। इस संबंध में शास्त्रों में कहा गया है-
माघे मासि महादेव यो दद्यात् घृतकम्बलम्।
स भुक्त्वा सकलान् भोगान् अन्ते मोक्षं च विन्दति।।
इसी प्रकार मनु भी दान की महिमा का वर्णन करते हुए कहा गया है-
तपः परं कृतयुगे त्रेतायां ज्ञानमुच्यते।
द्वापरे यज्ञमेवाहुर दानमेकं च कलौयुगे।।
यानी सतयुग में तप, त्रेतायुग में ज्ञान द्वापर में यज्ञ और कलियुग में दान करने से मोक्ष की प्राप्ति होती है।
मकर संक्रांति पर स्नान का महत्व
मकर संक्रान्ति के दिन तीर्थराज प्रयाग, गंगासागर एवं गंगास्नान एवं गंगा तट पर दान की विशेष महिमा बताई गई है। भारतीय वांगमय में जीवन से जुडे प्रत्येक पहलु व ऋतु परिवर्तन को बड़े ही हर्षोल्लास से मनाया जाता है। वैदिक ऋषियों ने तीन प्रकार से ऋतुओं को बांटा है जैसे-व्रत, पर्व, विवेक। मकर संक्रांति को भारत पर्व के रूप मनाता आ रहा है। उत्तर प्रदेश में इसे व्रत रूप में मनाया जाता है, जिसे यहां खिचड़ी कहते हैं। इसलिए इस दिन खिचड़ी खाने और खिचड़ी व तिल दान का भी विशेष महत्व है।
महाराष्ट्र में विवाहित स्त्रियां पहली संक्रांति पर तेल, कपास, नमक आदि वस्तुएं सौभाग्यवती स्त्रियों को प्रदान करती हैं। बंगाल में इस दिन स्नान कर तिल दान किया जाता है। दक्षिण भारत में इसे पोंगल के नाम से जाना जाता है। असम में आज के दिन बिहू का त्योहार मनाया जाता है। राजस्थान की प्रथा के अनुसार, इस दिन सौभाग्यवती स्त्रियां तिल के लड्डू, घेवर तथा मोतीचूर के लड्डू आदि पर रुपया रखकर वायन के रूप में अपनी सास को प्रणाम दान कर देती हैं तथा चौदह की संख्या में संकल्प कर चौदह ब्राह्मणों को दान करने का भी विधान है।
मकर संक्रान्ति का पर्व हमारे देश में विशेष महत्तव रखता है।
तुलसीदास जी भी कहते हैं- माघ मकरगत रबि जब होई। तीरथपतिहिं आव सब कोई।।
इसी दिन से ग्रीष्म के लिए पूर्व में ही हम हमारे शरीर को ग्रीष्म योग्य बनाने का कार्य करते हैं। अर्थात अब हमें गर्मी के लिए तैयार होते हैं, जिसके लिए तिल और गुड अर्थात गर्म वस्तुओं का प्रयोग करते हैं। जिससे ठंड में स्थित शरीर को ग्रीष्म योग्य बनाया जा सके। या यूं कहें कि अन्धकार से प्रकाश की और जाने का काल मकर संक्रान्ति कहलाता है।
मकर संक्रांति की पूजन विधि
मकर संक्रांति के दिन सूर्योदय से पहले उठकर स्नान करना चाहिए। इसके बाद एक लोटे में जल लेकर उसमें कंकुम, रक्तपुष्प लेकर सूर्य को अर्घ्य देने का विधान शास्त्रों में बताया गया है। इस दौरान ऊँ सूर्याय नमः मंत्र का जाप करना चाहिए। इस दिन भगवान विष्णु की पूजा का भी महत्व बताया गया है। सूर्य को अर्घ्य देने के पश्चात भगवान विष्णु का पूजन तिल से करना चाहिए। जल में तिल मिलाकर भगवान का अभिषेक एवं तिल का भोग लगाना श्रेयष्कर माना जाता है।
विष्णु भजन, दान, तप तथा पीली वस्तुओं का दान भी बताया गया है। उसके बाद खिचड़ी का भोग बनाकर प्रभु को अर्पण कर सभी को खिचड़ी का प्रसाद ग्रहण करना चाहिए। शाम को भजन कीर्तन एवं प्रभु का हवन, पूजन करने से प्रभु को प्रसन्न करना चाहिए। इस दिन विष्णुसहस्त्रनाम, आदित्यहृदयस्तोत्र एवं श्रीनारायण कवच का पाठ ब्राह्मण द्वारा कराकर यथोचित भोजन कराकर दान देना चाहिए, जिससे आने वाले वर्ष में हमारे परिवार में कोई भी दुख न मिले और सभी स्वस्थ हों ऐसी कामना करनी चाहिए।

 
 
समान पंचांग-पुराण  
livehindustansamachar.com
     
भगवान आशुतोष के द्वादश ज्योतिर्लिंगों में से एक केदारनाथ धाम के कपाट
लाइव हिंदुस्तान समाचार
भगवान आशुतोष के द्वादश ज्योतिर्लिंगों में से एक केदारनाथ धाम के कपाट बर्फबारी के बीच शीतकाल के लिए सुबह 8.30 बजे विधि-विधान के साथ बंद कर दिए गए हैं। इस मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्
और अधिक पढ़ें..

भगवान आशुतोष के द्वादश ज्योतिर्लिंगों में से एक केदारनाथ धाम के कपाट

शारदीय नवरात्र : अष्टमी और नवमी पर करें कन्या पूजन, होगी मां की कृपा !

श्रद्धालु फिर से कर सकेंगे मां वैष्णो देवी के दर्शन, नियमों के साथ यात्रा की अनुमति

व्यक्ति की राशि पर भी निर्भर करता है तो उसे कैसे जीवनसाथी मिलेगा

कांवड़ यात्रा की अनुमति देने से झारखंड सरकार ने किया इन्कार

शारदीय नवरात्र 2019 : उज्जैन में कलेक्टर ने लगाया माता को मदिरा का भोग

''नम: शिवाय'' शिव पंचाक्षरी मंत्र के जाप से हो जाता है असाध्य रोगों का नाश

बकरीद के चांद के हुए दीदार, 12 अगस्त को मनेगी ईद उल अजहा

भगवान शिव के मंदिर में हुआ चमत्कार, नंदी और गणेश की प्रतिमा पीने लगी दूध

श्रावण का पहला सोमवार : श्रद्धालुओं के लिए डेढ़ घंटे पहले जागे महाकाल

ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह में रात के समय 5 स्थानों पर हो सकेगी इबादत

योग निंद्रा में जाएंगे भगवान विष्णु, चार माह नहीं होंगे मांगलिक कार्य

झलोखर की मां भुवनेश्वरी माता मंदिर मे लगी श्रद्धालुओं की भीड़

दारुल उलूम का एलान, नहीं दिखा रमजान का चांद,मंगलवार को पहला रोजा

शीतला चौकिया धाम में दर्शन-पूजन के लिए उमड़ा आस्था का सैलाब

Chaitra Navratri 2019: मैहर में उमड़ेंगे श्रद्धालु, सुरक्षा के लिए व्यापक इंतजाम

Chaitra Navratri 2019: चैत्र नवरात्र में ये 3 उपाय बदल देंगे ''जिंदगी''

स्फटिक शिवलिंग की पूजा से धन और सोने के शिवलिंग से मिलता है ऐश्वर्य

महाशिवरात्रि : शिव के वैराट्य का उत्सव है महाशिवरात्रि

भगवान परशुराम शिव और विष्णु के संयुक्त अवतार

माघ पूर्णिमा : स्नान, दान और धर्म - कर्म की पूर्णिमा

सोमवती अमावस्या पर सोमतीर्थ कुंड शिप्रा में हजारों श्रद्धालुओ ने किया स्नान

प्रेम के महीने फरवरी में हिंदुओं के सबसे ज्यादा व्रत और त्यौहार

4 हजार वर्गफीट में संगमरमर से बन रहा भव्य मंदिर, 15 मूर्तियां होंगी स्थापित

मंत्री ने कहा जल्दी पूजा करवायें, ताकि आम जनता को असुविधा न हो

प्रभारी मंत्री ने गर्भगृह के बाहर से किये भगवान महाकालेश्वर के दर्शन

तिल चतुर्थी का उल्लास, मंदिरों में श्रद्धालुओं का उमड़ा सैलाब

छतरपुर में अनोखा है मां अंजनी और पवनपुत्र का मंदिर

मेहरम के बिना हज पर जाएंगी 2340 महिलाएं, मिलेंगी विशेष सुविधाएं

Lohri 2019 : लो आ गई लोहिड़ी, जानें इस पर्व का महत्व और इतिहास

ब्रह्मा, विष्णु, महेश के संयुक्त अवतार हैं दत्तात्रेय

कार्तिक पूर्णिमा के पर्व पर श्रद्धालुओं ने किया स्नान-दान,मेले का हुआ आयोजन

खडग पुस्तक हुई बंद, मंगलवार को बंद होंगे बदरीनाथ के कपाट

राम की नगरी अयोध्या में ऐतिहासिक होगी 24 घंटे में 14 कोसी परिक्रमा

पौराणिक मान्यताओं के आधार पर महापर्व छठ की महत्ता

देवभूमि में ताकत से नहीं सिर्फ एक उंगली से हिलती है विशाल चट्‌टान

सबरीमला में कवरेज के लिए न आएं युवा महिला पत्रकार :हिंदू संगठन

साई बाबा ट्रस्ट के शताब्दी समारोह में मिलेगी चांदी के सिक्कों की सौगात

500 सालों से रहस्यमय है बीहड़ के मंदिर में हनुमान जी की जीवित मूर्ति

संगम तट पर लेटे हनुमान को मां गंगा ने कराया स्नान

धार्मिक ही नहीं, सांस्कृतिक भी है गणेश उत्सव

नज़र नहीं आया चांद, अब बुधवार को होगी मोहर्रम की पहली तारीख

चित्रकूट भदई अमावस्या मे उमड़ा श्र्धालुओ का जन सैलाब

कैलाश मानसरोवर यात्रा पर राहुल गाँधी , नेपाल में खाने को लेकर विवाद

श्रीराम आश्रम पर धूमधाम से मनाई जा रही श्रीकृष्ण जन्माष्टमी

अध्यात्म में रंगों की भूमिका और उनका महत्व !

अमरनाथ यात्रा : 137 श्रद्धालुओं का अंतिम जत्था रवाना

श्रद्धालुओं की संख्या हुई कम, अमरनाथ यात्रा स्थगित

श्रावण मास : जलाभिषेक के साथ ''बोल-बम'' बोल से शिवालय गुंजायमान

रामेश्वर ही नहीं नर्मदा तट भी किया था श्रीराम ने शिवलिंग का निर्माण

voice news
हमारे रिपोर्टर  
 
 
View All हमारे रिपोर्टर
पंचांग-पुराण   
मकर संक्रांति : नौकरी-व्यापार में वृद्धि तथा संतान सुख, मोक्ष की प्राप्ति के लिए करे दान !
भगवान आशुतोष के द्वादश ज्योतिर्लिंगों में से एक केदारनाथ धाम के कपाट
करवा चौथ : कल्याणकारी है कार्तिक मास, जानिए इसका महत्व
करवा चौथ : जानिए व्रत विधि, पूजन सामग्री, पूजा विधि, शुभ मुहूर्त
शारदीय नवरात्र : अष्टमी और नवमी पर करें कन्या पूजन, होगी मां की कृपा !
live tv
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
livehindustansamachar.com
 
पंचांग-पुराण   
राशिफल नवरात्रि [ स्पेशल ]
आस्था सुविचार
प्रेरक प्रसंग प्रवचन [कथा ]
व्रत [उपवास ]
 
लाइव अपडेट  
लाइव हिंदुस्तान समाचार
 
समाचार चैनल  
LOCAL राजनीति
SPORTS जीवन-शैली
BUSINESS CRIME
सर्वे/ आडिट EDUCATION
EDITORIAL अंतर्राष्ट्रीय
SOCIAL MEDIA JOB
INTERTAINMENT आपदा
अनुसंधान ब्लॉग
निर्वाचन-2021 टेक्नोलॉजी
COURT कृषि
HEALTH राष्ट्रीय
प्रशासन कार्यक्रम
भ्रष्टाचार
 
Submit Your News
 
 
 | होम  | EDUCATION  | भ्रष्टाचार  | BUSINESS  | कार्यक्रम  | EDITORIAL  | JOB  |  कृषि  | HEALTH  | CRIME  | SPORTS  | प्रशासन  | COURT  | सर्वे/ आडिट  | अनुसंधान  | टेक्नोलॉजी  | जीवन-शैली  | INTERTAINMENT  | राष्ट्रीय  | आपदा  | SOCIAL MEDIA  | राजनीति  | LOCAL  | अंतर्राष्ट्रीय  | निर्वाचन-2021  | ब्लॉग  | पांडिचेरी  | अंडमान एवं निकोबार  | गोवा  | राजस्थान  | मणिपुर  | मेघालय  | महाराष्ट्र  | आंध्र प्रदेश  | मध्य प्रदेश  | बिहार  | हिमाचल प्रदेश  | लद्दाख  | गुजरात  | मिजोरम  | असम  | नगालैंड  | दमन और दीव  | नई दिल्ली  | हरियाणा  | अरुणाचल प्रदेश  | त्रिपुरा  | सिक्किम  | लक्ष्यदीप  | पंजाब  | तेलंगाना  | दिल्ली  | चंडीगढ़  | तमिलनाडु  | कर्नाटक  | दादरा और नगर हवेली  | उड़ीसा  | छत्तीसगढ़  | पश्चिम बंगाल  | झारखंड  | जम्मू और कश्मीर  | उत्तर प्रदेश  | उत्तरांचल  | केरल  | नियम एवं शर्तें  | गोपनीयता नीति  | विज्ञापन हमारे साथ  | हमसे संपर्क करें
 
livehindustansamachar.com Copyrights 2016-2017. All rights reserved. Design & Development By MakSoft
 
Hit Counter